निजी संस्था ने चुनाव आयोग को दिया मांग पत्र : लोकसभा चुनाव लड़ने वाले नेताओं का डोप टैस्ट करवाने की मांग


चंडीगढ़, 19 अप्रैल (विक्रमजीत सिंह मान): मीडिया एक्शन फार ह्यूमन राईट्स प्रोटैक्शन संस्था के पदाधिकारियों द्वारा पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी को मांग की गई कि लोकसभा चुनाव लड़ने वाले नेताओं का डोप टैस्ट करवाना आवश्यक किया जाए ताकि अच्छे एवं स्वच्छ छवि वाले नेता राजनीति में आ सकें। संस्था के संरक्षक रणजीत सिंह सिद्धू, प्रधान सरबजीत सिंह हैप्पी एवं उपप्रदान मोहन लाल ने एक मांग पत्र देकर चुनाव आयोग से मांग की कि प्रत्याशियों के नामांकन भरने से पहले प्रत्याशियों का डोप टैस्ट करवाया जाए और नामांकन पत्र के साथ डोप टैस्ट की रिपोर्ट लगानी अनिवार्य की जाए। इसके अतिरिक्त संस्था द्वारा राजनीतिक पार्टियों के चुनावी घोषणा पत्र कानूनी दायरे में शामिल करने की मांग भी चुनाव आयोग से की गई। शिष्टमंडल के सदस्यों ने कहा कि वह इस सम्बन्धी हाईकोर्ट में जनहित याचिका डालकर इस मामले को कानूनी रूप से मान्यता दिलवाने की मांग भी करेंगे। शिष्टमंडल ने कहा कि पंजाब सरकार ने विगत वर्ष सरकारी कर्मचारियों, पंजाब पुलिस एवं मैडीकल की परीक्षा में डोप टैस्ट आवश्यक करवाने का आदेश दिया था। आज पंजाब सहित भारत में लोकसभा 2019 चुनाव हो रहे हैं जिसके चलते उनकी संस्था चुनाव आयोग से मांग करती है कि विधानसभा चुनाव हों या लोकसभा चुनाव, दोनों में ही राजनीतिक पार्टियों के प्रत्याशियों हेतु नामांकन फार्म भरने से पहले डोप टैस्ट करवाना अनिवार्य किया जाए।