नोटबंदी के फैसले से उद्योगपतियों का ही काला धन हुआ सफेद : जाखड़


चंडीगढ़, 9 नवम्बर (अजायब सिंह औजला): पंजाब कांग्रेस द्वारा आज यहां पंजाब कांग्रेस के प्रधान सुनील जाखड़ के नेतृत्व में नोटबंदी के दो वर्ष पूरे होने पर रोष धरना दिया गया। चंडीगढ़ के सैक्टर-17 स्थित आर.बी.आई. शाखा के कार्यालय सामने बड़ी संख्या में जुड़े कांग्रेसी कार्यकर्ताओं एवं नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नोटबंदी फैसले के खिलाफ रोष व्यक्त करते नारेबाजी भी की। इस अवसर पर सुनील जाखड़ ने बोलते कहा कि इस फैसले से छोटे व्यापारियों को काफी नुक्सान पहुंचा। उन्होंने यह भी कहा कि कुछ अपने चहेते उद्योगपतियों को इस फैसले से काला धन सफेद बनाने की यह योजना तैयार की गई। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने 50 दिनों के भीतर इस नोटबंदी के अच्छे परिणाम आने की बात कही परन्तु 730 दिन बीत जाने पर भी कोई सार्थक परिणाम अभी तक सामने नहीं आया। उन्होंने कहा कि इस फैसले से उद्योगपतियों का ही काला धन सफेद हुआ है। जाखड़ ने कहा कि नोटबंदी से छोटे व्यापारियों, किसानों एवं मध्यम वर्ग के लोगों के जीवन में बहुत सी समस्याएं खड़ी हो गई हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी ने हर वर्ष 2 करोड़ नौजवानों को रोज़गार देने का वायदा किया था परन्तु नोटबंदी के कारण 35 लाख लोगों का रोज़गार तक छीन लिया गया। इस अवसर पर पंजाब के कैबिनेट मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू भी उपस्थित थे। उन्होंने आर.बी.आई. को मोदी से बचाने का नारा दिया। इन नेताओं ने यह भी कहा कि हर वर्ष भारतीय रुपए की कीमत जिस तरह गिराई है यह मोदी सरकार का आर्थिक मोर्चे पर फेल होने का प्रमाण है।