अंबर के किरदार के लिए जिंदगी के अनुभवों से प्रेरणा ली वरुण बडोला


अक्सर हम देखते हैं कि टेलीविजन के कलाकार अपने किरदार को बाखूबी निभाने के लिए एक कदम आगे जाकर कोशिश करते हैं। वो अक्सर मिलती-जुलती कहानियों से बारीकियां सीखते हैं और इंडस्ट्री के सीनियर एक्टर्स से भी प्रेरणा लेते हैं। ऐसे ही एक कलाकार हैं वरुण बडोला, जो अपनी खास परफ ॉर्मेंस के लिए जाने जाते हैं। वरुण बडोला जल्द ही शो ‘मेरे डैड की दुल्हन’ में एक 24 साल की बेटी के बाप बने नजर आएंगे। शहरी जीवनशैली पर आधारित यह ताजा शो बाप और बेटी की एक दूसरे पर निर्भरता की कहानी है। वरुण खुद एक पिता हैं और उन्हें अंबर का किरदार काफी दिलचस्प लगा। वरुण कहते हैं, इतने वर्षों में मैंने बाप-बेटी के बहुत-से रिश्ते देखे हैं, जिससे मुझे अंबर के किरदार की सनक समझने में मदद मिली। चूंकि मैं खुद एक पिता हूं तो मुझे पता है कि मां-बाप की जिंदगी में एक बच्चे की क्या अहमियत होती है। जब मुझे ‘मेरे डैड की दुल्हन’ के बारे में बताया गया, तो मुझे फौरन उन सारे पिताओं से अपनी मुलाकात याद आ गई और फि र मैंने अंबर के किरदार में ढलने के लिए इस अनुभव का सहारा लिया। जब मैं बाप बना तो लोगों ने मुझे बहुत-सी सलाह दी कि क्या करें और क्या न करें और बच्चे को अनुशासन में रखने के नुस्खे भी सुझाए। लेकिन अंत में मैंने अपना तरीका ही अपनाया। अपने बच्चे के साथ हर बाप का अपना एक विशेष व्यवहार होता है और अंबर भी इस मामले में अलग नहीं है। वो बड़ा मुश्किल आदमी है, जो अपनी बेटी को एक दोस्त और एक विश्वस्त मानता है। अंबर से डील करना इतना आसान नहीं है। यह किरदार और कहानी लीक से हटकर है और मुझे यकीन है कि दर्शक इस शो को जरूर पसंद करेंगे।