आर्यन्ज़ के सिविल इंजीनियरिंग विद्यार्थियों ने अम्बाला में वाटर ट्रीटमैंट प्लांट का किया दौरा


मोहाली, 21 अक्तूबर (अ.स.): आर्यन्ज़ कालेज आफ  इंजीनियरिंग, राजपुरा नज़दीक चंडीगढ़ के सिविल इंजीनियरिंग विभाग ने अम्बाला सिंघवाला में स्थित वाटर ट्रीटमैंट प्लांट में एक औद्योगिक दौरे का आयोजन किया। औद्योगिक दौरे का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों के व्यवहारिक ज्ञान को बढ़ाना व उन्हें कच्चे पानी की शुद्धता में शामिल विभिन्न प्रकार से काम करने बारे जागरूक करना था। विद्यार्थियों ने ट्रीटमैंट प्लांट की विभिन्न इकाइयों जैसे कि सेडीमेशन टैंक, कोगूलेशन टैंक तेज़ी से रेत फिल्टर व कीटाणू मुक्त यूनिट का दौरा किया और दूषित पानी के इलाज हेतु उपयोग की जा रही विभिन्न तकनीकों बारे सीखा। ट्रीटमैंट प्लांट के जूनियर इंजीनियर शलिंदर भवानी ने ट्रीटमैंट प्लांट की सभी इकाईयों के साथ-साथ वितरण प्रणाली बारे बताया। उन्होंने विद्यार्थियों को पानी की बेहतरी, दूषित तत्वों को हटाने, खर्च बचाने के ढंग, संकट समय पानी प्रबंधन, स्वाद व पानी की स्पष्टता में सुधार बारे भी रोशनी डाली। विद्यार्थियों ने दूषित पानी के प्राइमरी, सैकेंडरी व तीसरे इलाज की धारणा को समझाया और आगे बताया कि कैसे नालियों के दूषित पानी को खेतीबाड़ी उद्देश्यों के लिए उपयोग किया जाता है। विद्यार्थियों को संक्षेप में प्रोसैस यूनिटाें, जीव वैज्ञानिक इलाज इकाईयों, सलैज सिस्टम यूनिट व गैस उपभोक्ता प्रणाली बारे संक्षेप में निर्देश दिए गए।