प्रदेश में सात विधान सभा क्षेत्रों में उप चुनाव होना हुआ निश्चित


अबोहर, 23 मई (कुलदीप सिंह संधू): प्रदेश में लोक सभा चुनावों का शोर शराबा शांत होने के बाद लोगों को एक बार फिर जल्दी ही उप चुनावों का सामना करना पड़ेगा। प्रदेश अंदर लगभग सात विधान सभा क्षेत्रों में उप चुनाव होना निश्चित हो गया है। लोक सभा चुनावों में विभिन्न पार्टियों द्वारा 9 विधायकों को उम्मीदवार द्वारा चुनाव मैदान में उतारा गया था, जिनमें से सिर्फ दो विधायक ही लोक सभा की सीढ़ी चढ़ने में कामयाब हुए है। जानकारी के अनुसार आप के पांच विधायक एच.एस. फूलका, नाजर सिंह मानशाहियां, अमरजीत सिंह संदोया, सुखपाल सिंह खैहरा और मास्टर बलदेव सिंह पहले ही इस्तीफा दे चुके है, जबकि इन चुनावों में अकाली दल के प्रधान और जलालाबाद के विधायक सुखबीर सिंह बादल फिरोजपुर और भाजपा के फगवाड़ा से विधायक सोम नाथ होशियारपुर सीट से चुनाव जीत गए है। इस तरह विधान सभा क्षेत्र दाखा, मानसा, रोपड़, भुलथ, जैतो, जलालाबाद और फगवाड़ा में उप चुनाव करवाएं जाएंगे। वैसे इन चुनावों में विधायक अमरेन्द्र सिंह राजा वडिंग, राज कुमार चब्बेवाल, सिमरजीत सिंह बैंस, प्रमिन्द्र सिंह ढींडसा और बीबी बलजिन्द्र कौर भी मैदान में उतरे हुए थे जो जीतने में कामयाब नहीं हो सके। इन उप चुनावों का प्रछावां विधान सभा की स्थिति पर भी पड़ने की संभावना है, क्योंकि इस समय मुख्य विरोधी गुट का पद आप के पास है, जिनके विधान सभा में 20 विधायक और उनके पांच विधायकों के क्षेत्रों में उप चुनाव होने है।