दरबार-ए-खालसा ने कोटकपूरा में मनाया 'लाहनत दिवस' 


कोटकपूरा,14 अक्तूबर - (मोहर सिंह गिल) - पवित्र श्री गुरू ग्रंथ साहिब के अंगों की बरगाड़ी में हुई बेअदबी के रोष के रूप में 14 अक्तूबर 2015 को कोटकपूरा के बत्तियां वाले चौक में पाठ कर रही संगत पर गोलियां चलाने, गंदे पानी की बौछारें करने के रोष के तौर पर आज प्रातःकाल 5 बजे इसी चौंक में दरबार-ए-खालसा की ओर से 'लाहनत दिवस' मनाया गया। इस मौके पर संगत के जलसे को भाई हरजिन्दर सिंह माझी, सिंह साहिब ज्ञानी केवल सिंह, मनविन्दर सिंह ग्यासपुरा, जत्थेदार मक्खन सिंह नंगल, कोटकपूरा के विधायक कुलतार सिंह संधवां, गुरदीप सिंह बाजवा समेत अन्य नेताओं ने अपने संबोधन में इंसाफ न देने पर समय की सरकारों की कड़ी आलोचना की।