कनाडा-सुल्तानपुर लोधी बस का भारत पहुंचने पर भव्य स्वागत 


अटारी,17 नवंबर - (रुपिन्दरजीत सिंह भकना) - गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर कैनेडा के एक परिवार द्वारा गुरू साहिब के चरण छू प्राप्त गुरूधामों के दर्शनों के लिए चलाई गई विशेष बस को उनके द्वारा कनाडा से सुल्तानपुर लोधी यात्रा बस का नाम दिया गया है जोकि 17 देशों से होते हुए 2100 किलोमीटर का रास्ता तय कर अटारी-वाघा सरहद के रास्ते से भारत पहुंची, जहां पहुंचने पर शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी द्वारा मैनेजर रजिन्दर सिंह अटारी के नेतृत्व में भव्य स्वागत किया गया इस बस में 9 सिक्ख श्रद्धालु को 3 सितम्बर को कनाडा के शहर ब्रैंपटन से गुरचरण सिंह बनवैत के नेतृत्व में सिक्ख श्रद्धालुओं द्वारा रवाना किया गया था। इस बस ने जहां ऐटलांटिक सागर को एक जहाज के द्वारा पार किया, वहीं यह बस लंदन, फ्रांस, जर्मनी आस्ट्रिया, स्विटजरलैंड, तुर्की, ईरान आदि देशों से होते हुए श्री करतारपुर साहिब के रास्ते के समागमों में शामिल हुई। इस बाद यह बस 12 नवंबर को श्री गुरु नानक देव साहिब जी के प्रकाश पर्व के समागमों में शिरकत करने के बाद अलग-अलग गुरूधामों की यात्रा करते आज अटारी-वाघा सरहद के रास्ते भारत में पहुंची।