साइकिल चलाने के लाभ


 


साइकिल एक सुविधाजनक आवागमन का ज़रिया है। इसे चलाकर आस-पास के स्थान पर छोटे कामों के लिए जाया जा सकता है। थोड़ी दूर तक स्कूल,कालेज, क्रीड़ास्थल तक जाना इससे आसान होता है।
साइकिल चलाने के लाभ
ा हर उम्र के लोग इसे आसानी से चला सकते हैं। यह व्यायाम करने का बढ़िया ज़रिया है।
ा वजन घटाने में साइकिलिंग करना लाभप्रद है।
ा शरीरका इम्यून सिस्टम ठीक रहता है।
ा नियमित साइकिल चलाने से दिल के रोगों का खतरा कम होता है और शरीर में खून का दौरा रहता है।
ा घुटनों के दर्द में भी साइकिल चलाना ठीक है।
ा साइकिल चलाने से पैरों की मांसपेशियां मजबूत होती हैं और पैरों का व्यायाम भी हो जाता है।
ा नियमित साइक्लिंग से तनाव दूर रखने में मदद मिलती है।
साइकिल चलाने के नुक्सान
ा बड़े शहरों में जहां आवागमन के दूसरे साधन बहुत हों, वहां साइकिल चलाना मुश्किल होता है।
ा साइकिल चलाने वाले को प्रदूषण का सामना सीधे से करना पड़ता है।
ा साइकिल अगर आपके कद से छोटा है तो पीठ दर्द हो सकता है। लम्बा है तो चलाना मुश्किल होता है।
ा एक्सीडैंट का खतरा बड़े शहरों में ज्यादा होता है क्योंकि शहरों में साइकिल ट्रैक अलग से नहीं बने होते।
क्या एक्सेसरीज हों
ा हैलमेट ज़रूर रखें।
ा रिलेफक्टिव जैकेटस पहनें ताकि दूर से दिखाई दे कि साइकिल सवाल जा रहा है।
ा सख्त सीट हो तो जेल पैडेड कंवर खरीदें ताकि साइकिल चलाना आरामदायक लगे।
ा छोटा-सा एयर पंप फिट करवाएं ताकि ज़रूरत पड़ने पर हवा भर सकें।
ा पानी की बोतल के लिए साइकिल पर बोतल होल्डर लगवाएं। (स्वास्थ्य दर्पण)