सेहत का दुश्मन है जंक फूड


आजकल जंक फूड का क्रेज हर तरफ बढ़ता जा रहा है। जिसे देखो चाहे वह बच्चा हो, बड़ा हो या बूढ़ा, पिज़ा या बर्गर खाते हुए नजर आएंगे पर क्या आप जानते हैं कि जब आप फास्ट फूड बर्गर, पीज़ा या फ्रेंच फ्राइस आदि का सेवन करते हैं या अपने बच्चे को ऐसा भोजन खिलाते हैं तो आप खुद भी और बच्चे को भी मोटापा, मधुमेह, हृदय रोगों का शिकार बनाने जा रहे हैं। बर्गर, पिज़ा आदि परिष्कृत या रिफाइंड मैदे से बने होते हैं। इसके अतिरिक्त चिकन पैटीज, डीप फ्राइड मटन आदि संतृप्त वसा से युक्त होते है। फास्ट फूड में नमक की मात्रा भी अधिक होती है। फास्टफूड से किसी भी पोषक तत्व की प्राप्ति नहीं होती। कभी-कभार तो चेंज के लिए फास्ट फूड का सेवन इतना हानिप्रद नहीं पर अगर यह आपके भोजन का अभिन्न अंग बनता जा रहा है तो आप अभी से अपने स्वास्थ्य के प्रति चिंतित होना प्रारंभ कर दें क्योंकि भविष्य में खतरे की घण्टी कभी भी बज सकती है।फास्ट फूड का सेवन करने की बजाय भारतीय दाल रोटी, सब्जियों का सेवन आपको सभी पोषक तत्वों की प्राप्ति करवाएगा। अगर फास्ट फूड में सोडियम, कैलोरी, वसा की मात्रा के बारे में जाना जाए तो आपको पता चलेगा कि यह आपकी हृदय वाहिनियों के लिए कितना हानिप्रद है। इससे आप अनुमान लगा सकते हैं कि फास्ट फूड का सेवन आपको कैलोरी और सोडियम की मात्रा तो बहुत अधिक देता है पर पोषक तत्वों के नाम पर कुछ नहीं। जो कैलोरी आप फास्ट फूड से प्राप्त करते हैं वह भी वसा से प्राप्त होती है। एक हैम्बर्गर में कैलोरी की मात्र अनुमानत: 270 होती है और सोडियम की मात्र 600 मि. ग्रा., एक चीज बर्गर में कैलोरी की मात्र 320 और सोडियम की 600 मि. ग्रा., फ्रेंच फ्राइस में कैलोरी की मात्र 210 और सोडियम की मात्र 135 मि. ग्रा. होती है। अगर कभी आपको फास्ट फूड का सेवन करना पड़ भी जाए तो बर्गर या पिज़ा के साथ कोल्ड डिंरक्स, फ्रेंच फ्राइस आदि न लें। इससे आपके स्वास्थ्य को थोड़ा कम नुकसान पहुंचेगा। कभी भी पिज़ा या बर्गर लेते समय अतिरिक्त चीज़ न डलवाएं। नॉन वेजिटेरियन पिज़ा के स्थान पर वेजिटेरियन पिज़ा का ही आर्डर करें। फास्ट फूड का सेवन करते समय मस्टर्ड या केचअप न लें। इससे सोडियम के सेवन पर थोड़ा नियंत्रण रहेगा। फास्ट फूड के सेवन के पश्चात् सेब या किसी अन्य फल का सेवन करें। इस तरह किसी हद तक आप अपने स्वास्थ्य को कम हानि पहुंचा पाएंगे पर अगर आप अच्छा स्वास्थ्य चाहते हैं तो फास्टफूड के स्थान पर सूप, फलों, सब्जियों, फ्रूट जूस, स्प्राउटस, दालों, साबुत अनाज का सेवन करें। (स्वास्थ्य दर्पण)

—सोनी मल्होत्रा