अब करतारपुर गलियारा जाने वाले श्रद्धालुओं का दो बार होगा बायोमैट्रिक


अमृतसर, 3 दिसम्बर (सुरिन्द्र कोछड़) : पाकिस्तानी अधिकारियों ने पाकिस्तान से करतारपुर साहिब आने व जाने वाले हर यात्री का बायोमैट्रिक करवाना ज़रूरी कर दिया है। इस के चलते अब करतारपुर गलियारा द्वारा पाकिस्तान के ज़िला नारोवाल स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए जाने वाले भारतीय नागरिकों की पाकिस्तानी टर्मिनल में इमीग्रेशन काऊंटर पर दो बार बायोमैट्रिक जांच होगी। पाकिस्तान सरकार द्वारा यह फैसला नवम्बर महीने के आखिरी सप्ताह गलियारा द्वारा हरियाणा से पाकिस्तान गई भारतीय लड़की द्वारा गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब से अपने पाकिस्तानी प्रेमी के साथ भागने की नाकाम कोशिश के बाद लिया गया।
प्राप्त जानकारी अनुसार हरियाणा के ज़िला रोहतक की एक  लड़की 23 नवम्बर को करतारपुर गलियारा द्वारा गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब माथा टेकने के लिए श्रद्धालु के तौर पर पाकिस्तान गई। वहां पहले से बनाई गई योजना अनुसार उसका सोशल मीडिया पर हुई दोस्ती के बाद प्रेमी बना एक पाकिस्तानी मुस्लिम नौजवान भी अपने कुछ दोस्तों सहित पाकिस्तान द्वारा वहां पहुंचा हुआ था। जब गुरुद्वारा साहिब में तैनात किए गए सुरक्षा कर्मचारियों ने उक्त भारतीय लड़की को अपने पाकिस्तानी प्रेमी के साथ संदिग्ध हालत में देखा तो उन्होंने पूछताछ के बाद तुरंत लड़की को भारत वापस भेज दिया और उसके पाकिस्तानी प्रेमी को हिरासत में ले लिया गया।