व्यायाम से रखें आंखों को स्वस्थ


टी.वी. और कंप्यूटर के अधिक प्रयोग से आजकल बच्चों की आंखें उम्र से पहले खराब होने लगती हैं जिससे उनकी आंखों से पानी आना, आंखों में जलन रहना, आईसाईट (आंखों की दृष्टि) का कमजोर होना, ये आम समस्याएं बच्चों में पाई जाने लगी है।
यदि हम प्रारम्भ से ही आंखों का ध्यान रखें तो हम अपनी आंखें स्वस्थ रख सकते हैं। उसके लिए आवश्यकता होती है थोड़े से व्यायाम की और अपने उचित खान-पान की।
जानिए कुछ व्यायाम आंखों के स्वास्थ्य के लिए:-
* आंखों की पुतलियों को बिना गर्दन हिलाएं दाएं से बाएं, बाएं से दाएं, फिर ऊपर से नीचे, नीचे से ऊपर देखें। इन क्रि याओं को 10 से 15 बार करें।
*  आंखों की पुतलियों को दाएं से बाएं, फिर बाएं से दाएं चक्र ाकार घुमाएं। आंखों को खुला रखें।
* आंखों को तेजी से खोलें और बंद करें। इस क्रि या को 15-20 बार करें।
* आंखों के लिए त्रटक व्यायाम बहुत अच्छा है। इसके लिए आप किसी एक बिन्दु पर निगाह टिकाएं और बिना पलक झपके जितनी देर तक देख सकें, देखें।
* आंखों के सभी व्यायामों के बाद आंखों की वार्मिंग क्रि या करें। दोनों हथेलियों को रगड़ कर गरम कर लें और उंगलियों की सहायता से आंखों पर रखें। ऐसा करते समय गर्दन थोड़ी आगे को झुका लें। 2-3 मिनट तक आंखें बंद करते हुए खोलें।
ध्यान दें
* आंखों में थकान महसूस होने पर गुलाब जल की एक-दो बूंद आंखों में डाले रूई के फाहे को गुलाब जल में भिगोकर आंखों पर रखें।
* रात को त्रिफला पानी में भिगो दें। उससे सुबह आंखों को धोएं।
* आंखों में धूल के कण चले जाने से आंखों को मलने के स्थान पर आंखों पर ठंडे पानी के छींटे मारें या ठंडे पानी से ही धो लें।
* लगातार टी.वी. न देखें, न ही कंप्यूटर पर लगातार काम करें। लगातार लेट कर भी न पढ़ें।
* भोजन में विटामिन ए को विशेष स्थान दें। पोषक भोजन खाएं।

(स्वास्थ्य दर्पण)
-नीतू गुप्ता