मिलावट को रोकने के लिए मिल्कफैड कर्मचारियों का लेंगे सहयोग : पन्नू


चंडीगढ़, 14 सितम्बर (अ.स.) : फूड सेफ्टी कमिश्नरेट ने दूध और दूध उत्पादों में होती मिलावट को रोकने के लिए मिल्कफैड के कर्मचारियों का सहयोग लेने का फैसला लिया है। यह जानकारी फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन कमिश्नर के.एस. पन्नू ने दी। उन्होंने कहा कि तंदुरुस्त पंजाब मिशन तहत राज्य सरकार लोगों को स्तरीय दूध और दूध उत्पाद मुहैया करवाने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ रही। इस एजेंडे में आगे बढ़िया दूध और दूध उत्पादों में होती मिलावट न रोकने के लिए पंजाब दूध उत्पादक फैडरेशन और कोआप्रेटिव सोसायटी (मिल्कफैड) का सहयोग लेने का फैसला लिया गया है। पन्नू ने बताया कि यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण बात है कि राज्य में प्रतिदिन तकरीबन 325 लाख लीटर दूध का उत्पादन, जो कि देश में प्रति व्यक्ति सबसे अधिक है, होने के बावजूद कुछ व्यक्तियों द्वारा पानी, वनस्पति तेल और अन्य ऐसे पदार्थ मिलाकर दूध में मिलावट की जाती है।