शिरोमणि कमेटी व पंजाब सरकार द्वारा प्रकाशोत्सव की तैयारियां जारी


अमृतसर, 11 अक्तूबर (जसवंत सिंह जस्स) : गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव मौके सुलतानपुर लोधी में होने वाले समागमों के लिए शिरोमणि कमेटी व पंजाब सरकार द्वारा अपने-अपने स्तर पर तैयारियां जारी हैं। 1 से 13 नवम्बर दौरान गुरुद्वारा श्री बेर साहिब के अंदर व बाहर शिरोमणि कमेटी द्वारा अपने स्तर पर किए जाने वाले विशेष समागमों मौके लगाए जाने वाले विशाल पंडाल, मुख्य मंच, रोशनी व ध्वनि प्रबंधों, जोड़ा घरों, लंगर, प्रैस गैलरी व अति विशेष व्यक्तियों के बैठने के विशेष शामियाने आदि के प्रबंधों हेतु शिरोमणि कमेटी द्वारा टैंडर प्रक्रिया मुकम्मल कर ली गई है और समागमों की तैयारियां ज़ोराें पर हैं। हालांकि एक निजी फर्म का 7 से 8 करोड़ रुपए के करीब उक्त कार्यों के लिए टैंडर पास किया गया है, परंतु टैंडर की वास्तविक राशि बारे शिरोमणि कमेटी द्वारा फिलहाल कोई जानकारी नहीं दी जा रही। इसी दौरान शिरोमणि कमेटी के मुख्य सचिव डा. रूप सिंह ने सम्पर्क किए जाने पर कहा कि 550वें प्रकाशोत्सव के ऐतिहासिक अवसर पर दर्शन करने व समागमों में शामिल होने के लिए आने वाली संगत के लिए प्रबंध करना शिरोमणि कमेटी की ज़िम्मेवारी है और इसी ज़िम्मेवारी के तहत ही सभी प्रबंध व्यापक स्तर पर किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि संगत की आवक के मद्देनज़र गुरुद्वारा साहिबान में पहले मनाई गई शताब्दियों मौके भी समागमों के पंडाल गुरुद्वारा साहिब से बाहर ही किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि इस बार भी शिरोमणि कमेटी द्वारा इन समागमों में शामिल होने के लिए समूह धार्मिक, राजनीतिक व सामाजिक पार्टियों से संबंधित प्रमुख शख्सियतों व देश-विदेश की गुरु नानक नाम लेवा संगत को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने कहा कि शिरोमणि कमेटी के मंच से कोई राजनीतिक बात नहीं की जाएगी बल्कि गुरबाणी पाठ, कथा कीर्तन के अलावा समागमों में शामिल होने वाली शख्सियतें गुरु साहिब की विचारधारा बारे ही विचार साझे करेंगी। उन्होंने कहा कि 9 नवम्बर से लेकर 13 नवम्बर के समागम गुरुद्वारा साहिब से बाहर बनाए जा रहे मुख्य पंडाल में होंगे। उन्होंने स्पष्ट किया कि शिरोमणि कमेटी द्वारा किए जा रहे प्रबंधों का मकसद पंजाब सरकार से अलग होकर समागम मनाना नहीं है। शताब्दी समागमों में पहुंचने वाली प्रमुख शख्सियतों बारे पूछे जाने पर शिरोमणि कमेटी के अध्यक्ष भाई गोबिंद सिंह लौंगोवाल ने बताया कि केन्द्रीय मंत्री अमित शाह व विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री 11 नवम्बर को सुबह 11 बजे से दोपहर 2.30 बजे तक होने वाले विशेष विचार समागम में शिरकत कर गुरु साहिब के प्रति सम्मान भेंट करेंगे।