दुष्कर्म के आरोप का मामला : फिलहाल ए.आई.जी. की गिरफ्तारी टली


चंडीगढ़ 19 अक्तूबर (विक्रमजीत सिंह मान) : पटियाला जेल में एक महिला के साथ दुष्कर्म तथा भ्रष्टाचार के मामले में फंसे एआईजी (विजीलैंस) आशीष कपूर की गिरफ्तारी फिलहाल टल गई है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पंजाब पुलिस प्रमुख ने इस अधिकारी के मामले की जांच रिपोर्ट तलब कर ली है, जिसकी जांच करने के बाद ही वह अगली कार्रवाई संबंधी आदेश जारी करेंगे। उल्लेखनीय है कि पंजाब पुलिस की आर्गेनाइज्ड क्राइम कंट्रोल यूनिट (ओसीसीयू) द्वारा एआईजी पर लगे आरोपों की जांच करने के बाद उन्हें नामज़द किया गया है। जानकारी के अनुसार दुष्कर्म व भ्रष्टाचार के मामलों में आरोप बनाए जाने के बाद आशीष कपूर ने राज्य के मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, डीजीपी व अन्य उच्चाधिकारियों को पत्र लिखकर सफाई दी थी कि वह निर्दोष हैं और उन्हें गलत तरीके से फंसाया जा रहा है। इस अधिकारी का यह भी कहना है कि एक ऐसी महिला की शिकायत पर उन्हें आरोपी बनाया गया है, जिसका अपना रिकार्ड आपराधिक रहा है। उन्होंने पत्र में लिखा था कि उन पर आरोप लगाने वाली महिला के खिलाफ कई मामले दर्ज हैं और कई मामलों में अदालत द्वारा उसे सज़ा भी सुनाई जा चुकी है। इसके साथ ही आशीष कपूर ने अपने पत्र में ओ.सी.सी.यू. के प्रमुख पर भी उंगली उठाते हुए आरोप लगाया है कि वह उसे इस मामले में फंसाना चाहती है, इसलिए पूरे मामले की जांच किसी अन्य अधिकारी को सौंपी जाए। पुलिस अधिकारी ने  इस पत्र का नोटिस लेते हुए डीजीपी ने मामले की अब तक की हुई जांच की पूरी रिपोर्ट तलब कर ली है और इसकी जांच के बाद ही अगली कार्रवाई हो सकेगी। उल्लेखनीय है कि पटियाला जेल में एक महिला ने 28 जून को ओ.सी.सी.यू. को शिकायत भेजते हुए उक्त अधिकारी पर उसे व उसके परिवार को फर्जी केस में फंसाने व दुष्कर्म करने कैसे गम्भीर लगाए थे। यह मामला समाने आते ही जेल मंत्री द्वारा जेल सुपरिटैंडैंट  व कई अन्य अधिकारियों को सस्पैंड कर उनके खिलाफ मामला दर्ज करवाकर मामले के जांच आरम्भ करवाई गई थी।