कैप्टन के विदेशी दौरे के कारण चेयरमैनी का मामला ठंडे बस्ते में


चंडीगढ़, 15 नवम्बर (विक्रमजीत सिंह मान): मुख्यमंत्री कैप्टन के विदेशी दौरे पर चले जाने के कारण कांग्रेसी नेताओं को राज्य के बोर्ड/कार्पोरेशनों के ‘चेयरमैन’ लगाने का मामला फिर ठंडे बस्ते में पड़ गया है। मिली जानकारी के अनुसार कांग्रेस पार्टी और कैप्टन द्वारा खुद कई कांग्रेसी नेताओं को हाल ही में हुए उपचुनावों के बाद चेयरमैन लगाने का आश्वासन दिया था, पर चुनावों के पश्चात् सरकार प्रकाश पर्व के समागमों की तैयारियों में व्यस्त हो गई और अब मुख्यमंत्री विदेश दौरे पर चले गये हैं, जिसके चलते अढ़ाई वर्ष से चेयरमैनी लेने हेतु प्रयत्नशील कांग्रेसी नेता निराशा के आलम में बताये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार, जिन लोगों की नियुक्तियां की जानी हैं, उनकी सूची प्रकाश पर्व की तैयारियां शुरू होने से पहले ही तैयार हो गई थीं पर इस बड़े प्रबंध की व्यस्तताओं के चलते नियुक्ति की घोषणा को रोक दिया गया। इससे पहले राज्य में हुई चार हलकों के उपचुनावों से पहले भी यह नियुक्तियां इस कारण रोक दी गईं ताकि किसी नेता की नियुक्ति से किसी और कांग्रेसी नेता या खास वर्ग की नाराज़गी का सामना कांग्रेसी उम्मीदवार को न झेलना पड़े। माना जा रहा था कि प्रकाश पर्व के बाद नवम्बर में नियुक्तियों की घोषणा कर दी जायेगी पर अब यह घोषणा दिसम्बर के पहले सप्ताह तक टल गई है।