रूपनगर में गुंडा पर्ची वालों के हौसले बुलन्द


रूपनगर, 22 नवम्बर (राजन वोहरा, सुमित पसरीचा) : ज़िला रूपनगर में गुंडा पर्ची का खेल इस स्थान पर पहुंच चुका है कि अब अखबारों में खबरें रोकने के लिए करिन्दों ने पत्रकारों को धमकाना शुरू कर दिया है परन्तु हैरानी की बात है कि सरकार में शामिल ज़िले के नेताओं की जुबान को ताला लग चुका है और आंखें बंद कर ली गई हैं। पुरखाली क्षेत्र में लोगों को धक्के से घेर कर पर्ची काटने वाले रायलिटी के एक करिन्दे ने बीते दिन पुरखाली से ‘अजीत’ के प्रतिनिधि अमृतपाल सिंह बंटी को उसके वाट्सऐप नंबर पर 9592100582 से असली रिवाल्वर के साथ कारतूस रख कर ली तस्वीर भेजी गई जब इसका कारण पूछा गया तो करिन्दे ने बताया कि वह रायलिटी ठेकेदारों के साथ काम करता है और उसके बच्चों ने गलती के साथ यह तस्वीर उक्त पत्रकार को भेज दी है। अमृतपाल सिंह बंटी की तरफ से इस की शिकायत पुरखाली चौंकी में दी गई जिस पर कार्रवाई करते आज पुलिस ने एफ. आई. आर. दर्ज करके अगली कार्रवाई शुरू दी है। हालांकि पुलिस ने शिकायत के आधार पर अपनी तरफ से कार्यवाही कर दी है परन्तु रोजमर्रा के हथियारों के साथ लैस हो कर नदियां, गड्ढों, क्रैशरों के बाहर निडर घूम रहे इन रायलिटी वालों ने लोगों में खौफ पैदा कर दिया है। रूपनगर जिले के आम लोग बेहद सहमे हुए हैं परन्तु जिनको वोटों डाल कर लोगों ने अपना शासक बनाया था वह अब आंखें मीट कर तमाशा देख रहे हैं। गौरतलब है कि पुरखाली क्षेत्र से पत्रकार अमृतपाल बंटी की तरफ से गुंडा पर्ची और नाजायज माइनिंग विरुद्ध लोगों की आवाज़ उठाई गई थी और ‘अजीत’ में प्रकाशित हुई खबरों से खफा हुए रायलिटी ठेकेदारों के करिन्दे ने हथियार की तस्वीर भेज कर असीधे तौर पर पत्रकार की जुबान बंद करने की कोशिश की है।
मामले की सी. बी. आई. जांच की मांग
 रूपनगर जिले में गुंडा पर्ची और नाजायज माइनिंग को रोकने पर मीडिया कर्मियों को धमकाने के मामले की सी. बी. आई. जांच की मांग करते समाज सेवी वकील दिनेश चड्ढा समेत आम आदमी पार्टी के नेताओं डा. चरनजीत सिंह, रणजीत सिंह पत्याला समेत अन्य नेताओं ने कहा कि जिले में रोज़मर्रा की अवैध माइनिंग और गुंडा पर्ची के द्वारा करोड़ों की लूट हो रही है। बीते बरसों में श्री आनंदपुर साहिब और नंगल क्षेत्र में अवैध माइनिंग के द्वारा सतलुज दरिया पर कुछ पुलों के 10-10 फुट पिल्लर भी नंगे हो चुके हैं और यह पुल अब खतरनाक हालातों में हैं जब कि इलाके में धरती निचले पानी का स्तर भी गिरता चला गया है और कुछ क्षेत्रों में ज़मीनें धंसने और बड़ी दरारें पड़ने की भी खबरें भी आती रही हैं। परन्तु अब पुरखाली, कीरतपुर, नूरपुर बेदी और श्री चमकौर साहिब क्षेत्र के कसबा बेला के पास के क्षेत्रों में गैर कानूनी माइनिंग का धंधा जोरों के साथ जारी है और यहीं बस नहीं रेत माफिया की तरफ से वन विभाग के नंबर लगे दर्जनों पेड़ काट कर दरिया के बांध से 10 किलोमीटर से अधिक लंबा रास्ता बना कर दिन दिहाड़े रेत की निकासी जोरों पर है। इस सम्बन्धित भी ‘अजीत’ की तरफ से माफिया की गुंडागर्दी की खबरें भी प्रकाशित की गई हैं।