पंजाब में सुरक्षा के कड़े प्रबंध, 215 कंपनियां तैनात


चंडीगढ़, 17 मई (हरकवलजीत सिंह) : पंजाब में लोकसभा चुनावों को लेकर चुनाव प्रचार समाप्त हो गया और इसके चलते ही चुनाव आयोग द्वारा सभी चुनाव पर्यवेक्षकों को निर्देश जारी किए गए कि वह चुनाव प्रचार के अगले 48 घंटें के लिए लागू हुई पाबंदी की उल्लंघना संबंधी सख्ती से निपटने और ज़रूरत पड़ने पर गिरफ्तारी से भी गुरेज़ न किया जाए। आयोग के निर्देशों के दौरान राज्य के आबकारी विभाग द्वारा शराब के ठेके सील करने के लिए टीमें 6 बजे से पहले ही ठेकों पर पहुंच गई थीं, जबकि पुलिस विभाग द्वारा चुनाव प्रचार के लिए बाहरी क्षेत्रों से आए लोगों और समर्थकों को क्षेत्रों से बाहर निकालने की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। पंजाब के मुख्य चुनाव अधिकारी डा.एस.करुणा राजू ने पत्रकारों के साथ बातचीत करते हुए बताया कि राज्य के कुल 4392 संवेदनशील और 249 अति संवेदनशील पोलिंग बूथ हैं, जिनके लिए आयोग द्वारा सुरक्षा के विशेष प्रबंध किए गए हैं। उन्होंने बताया कि सुरक्षा के कार्य के लिए केन्द्रीय सुरक्षा बलों की 215 कंपनियां तैनात की गई हैं, जबकि राज्य की पुलिस के भी 85000 जवान चुनाव ड्यूटियों पर तैनात हैं। उन्होंने बताया कि आयोग द्वारा विचार-विमर्श के बाद वोटों के लिए समय एक घंटा बढ़ाया गया और अब वोटें सुबह 7 बजे से लेकर 6 बजे तक पड़ेंगी।