उप्र में अफसरों के अवकाश 30 नवम्बर तक रद्द


लखनऊ, 16 अक्तूबर (एजैंसी) : अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद मामले पर आने वाले फैसले के मद्देनज़र प्रदेश सरकार ने फील्ड में तैनात प्रशासन और पुलिस के अफसरों के सभी अवकाश 30 नवम्बर तक के लिए रद्द कर दिए हैं। हालांकि शासन का कहना है कि यह कदम आगामी त्योहारों के मद्देनज़र उठाया गया है। अपर मुख्य सचिव मुकुल सिंघल की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि आगामी त्योहार आदि को देखते हुए फील्ड में तैनात अफसरों को अति विशेष परिस्थिति को छोड़कर किसी भी प्रकार का अवकाश नहीं दिया जाएगा। इसके साथ ही सभी अधिकारियों को अपने-अपने मुख्यालय में उपस्थित रहने के निर्देश भी दिए गए हैं। सूत्रों के अनुसार, चूंकि सुप्रीम कोर्ट में अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद पर बुधवार सुनवाई का अंतिम दिन है, और यह बहुप्रतीक्षित और संवेदनशील फैसला अगले महीने 17 नवम्बर से पहले आने की संभावना है। ऐसे में सरकार प्रदेश में खासकर अयोध्या में सुरक्षा-व्यवस्था चुस्त-दुरुस्त रखना चाहती है। शासन ने प्रकरण की संवेदनशीलता को देखते हुए तैयारियां शुरू भी कर दी हैं। डीजीपी मुख्यालय स्तर से अयोध्या में सात एएसपी, 20 सीओ, 20 इंस्पैक्टर, 70 उपनिरीक्षक व 500 सिपाही भेजे जाने के निर्देश दिए गए हैं। दीपोत्सव के दृष्टिगत 26, 27 व 28 अक्तूबर को अयोध्या में अतिरिक्त पुलिस अधिकारियों व कर्मियों की तैनाती होगी।