लड़कियों को अरब देशों में बेचने के गोरख धंधे का खुलासा

जगराओं, 2 दिसम्बर (विनोद कुमार, अमित खन्ना) : पंजाब में बेरोजगारी और पंजाबियों की विदेशों में जाकर अमीर होने की लालसा का फायदा उठा कर धोखेबाज ट्रैवल एजेंटों की तरफ से लंबे समय से पंजाबियों की आर्थिक लूट और विदेशों में मानवीय तस्करी के काले कारनामों के बाद अब फर्जी ट्रैवल एजेंटों के गिरोह की तरफ से पंजाब के गरीब परिवारों की बेटियां की अरब देशों में तस्करी किए जाने के गोरख धंधे से अरब देशों में वहां के अमीरों को ट्रैवल एजेंटों की तरफ से बेची गई लड़कियों की तरफ से भेद खोला है। जिनके परिवारों को एजेंटों के गिरोह द्वारा सपनें दिखा कर लड़कियाें को अरब देशों में भेज दिया गया, जहां उन्होंने लड़कियों को एजेंटों की तरफ से 3500 अमरीकी डालर में शेखों को बेच दिया गया, जिनके चंगुल में से कुछ लड़कियां बच कर वापिस लौट आईं हैं, जिनमें से कुछ ने अपनी आपबीती ‘अजीत समाचार’ के साथ सांझी करते अरब देशों में से लौटी लड़कियां में से एक जगराओं समीप गांव मल्ला की कुलवंत कौर और ज़िला मोगा के गांव रणसीहके की मनजीत कौर ने बताया कि दुबई पहुंचने के बाद उनको उमान भेज दिया गया, जहां एजेंटों के गिरोह की तरफ से उनको कुछ दराम की वेतन के एग्रीमेंट करके 3500 अमरीकी डालर में बेच दिया गया। जहां उनसे मारपीट करके जबरदस्ती काम करवाया जाता रहा। इस दौरान वह किसी तरीके खरीददारों के चंगुल में से बच निकलीं और अपने परिवारों से पैसे मंगवा कर वापस आने में कामयाब हो गई। इस तरह अरब देश मस्कट में फंसी सन्दीप कौर के पिता बलविन्दर सिंह और सरबजीत कौर के पति सुरिन्दर सिंह ने बताया कि समीप गांव की एक फर्जी एजेंट करमजीत कौर की तरफ से सन्दीप कौर और सरबजीत कौर को 40 -40 हजार रुपए ले कर उमान भेजा गया था। उन्होंने खादसा जाहिर किया कि दोनों को एजेंटों की तरफ से बेच दिया गया है। जिस कारण उनका लंबे समय से संपर्क नहीं हो रहा। जानकारी अनुसार ट्रैवल एजेंटों की तरफ से पंजाब में अपना बड़े स्तर पर नैटवर्क स्थापित कर रखा है। इस गिरोह की तरफ से गांव में अपने एजेंट तैयार किये गए हैं, जिनको एजेंट गिरोह की तरफ से ग्राहक तैयार करने के लिए प्रति ग्राहक 10 हजार रुपए की अदायगी की जाती है। जो कि गरीब परिवारों की लड़कियां और सुंदर महिलाओं को अपना निशाना बनाते हैं। ग्रामीण मजदूर यूनियन के महासचिव अवतार सिंह रसूलपुर और भारत नौजवान सभा के राज्य प्रधान करमजीत सिंह कोटकपूरा ने साथियों समेत धोखो की शिकार हुई लड़कियों की हाजिरी में बताया कि धोखेबाज एजेंटों खिलाफ कार्यवाही करवाने के लिए वह काफी दिनों से पुलिस आधिकारियों को मिल रहे हैं, परन्तु सब जानकारी होने के बावजूद पुलिस दोषियों खिलाफ कार्यवाही नहीं कर रही। उन्होंने ऐलान किया कि अगले धार्मिक वह राज्य स्तर पर दोषियों खिलाफ कार्यवाही करवाने के लिए धरने शुरू करेंगे।