कॉमेडी करने में मज़ा आता हैअदा खान 


कभी काली नागिन के रूप में लोगों को डराने वाली टीवी एक्ट्रेस अदा खान अब नए शो ‘विष या अमृत सितारा’ में विषकन्या बनकर आ रही हैं। ऐसे में हमने उनसे उनके अब तक के सफर के बारे में  बातचीत की। प्रस्तुत हैं उसके कुछ अंश:
नागिन के बाद अब आप विषकन्या का रोल कर रही हैं। ये एक ही जैसे रोल करने की क्या वजह है? 
-नागिन और विषकन्या एक जैसी नहीं होती। दोनों का कॉन्सेप्ट बिल्कुल अलग है। नागिन एक इच्छाधारी सांप है, जो किसी भी इंसान का रूप बदल सकती है। विषकन्या के लिए छोटी लड़कियों को बचपन से ही ज़हर पिलाया जाता है, ताकि उनके शरीर में विष हो जाए। इस शो में मैं विषकन्या की बेटी हूं, इसलिए खुद भी एक विषकन्या हूं, लेकिन मुझे इसका अहसास नहीं है, तो यह बिल्कुल अलग रोल है। हां, ये दोनों सुपरनैचरल फैंटेसी शो हैं।
आपको सुपरनैचरल फैंटेसी जॉनर कितना पसंद है? 
-मुझे बहुत मजा आता है, सुपरनैचरल शोज करने में भी और देखने में भी। हमें इस दुनिया के बारे में पता नहीं होता। बचपन में जब हम ये चीजें पढ़ते हैं, तो हमें रियल लगती हैं और अभी भी इन्हें देखकर ऐसा लगता है कि अगर कोई सुपरपावर होता, तो हम यह कर सकते, वह कर सकते। इसीलिए, लोगों को पता है कि यह सब असलियत नहीं है, फिर भी वे इंजॉय करते हैं और इन चीजों से कनेक्ट करते हैं। 
आपके पास सुपरपावर होता, तो आप क्या करतीं?
-पता नहीं, लेकिन नागिन में मुझे यह बात बहुत मजेदार लगती थी कि आप कभी भी कोई भी रूप धारण कर सकते हैं। मतलब कुछ भी बनकर निकल जाओ। अगर मेरे पास यह पावर होता, तो शायद मैं सलमान खान बन जाती या कोई भी बॉलीवुड-हॉलीवुड स्टार बन जाती। 
सुपरनैचरल शोज के अलावा आप लगातार कॉमेडी शोज भी कर रही हैं। पहले ‘कॉमेडी नाइट्स बचाओ’ और अब ‘कानपुर वाले खुरानाज’, कॉमेडी करने में कितना मजा आता है?
-कामेडी मेरे लिए स्ट्रेस बस्टर है। नागिन बहुत ही सीरियस और स्ट्रेसफुल शो था, ऐसे में कामेडी नाइट्स बचाओ में मैंने काफी अच्छा समय बिताया था। हम हंस-हंसकर पागल हो जाते थे, तो मजा आता था। मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे फिर एक कामेडी शो मिल गया है। कामेडी मैं इंजॉय करती हूंए मैं कोई तीस मार खान नहीं हूं, मैं खुद को कामेडियन नहीं कह सकती, लेकिन कामेडी करने में मुझे मजा आता है। 
सुपरनैचरल और कामेडी के अलावा किसी और जॉनर में हाथ आजमाना चाहेंगी?
-मैं ‘खतरों के खिलाड़ी’ जैसा कोई एडवेंचरस शो करना चाहती हूं।