अक्षिता मैं टिपिकल दिल्ली की लड़की जैसी नहीं हूं 


अक्षिता कहती हैं, ‘मैं आगरा से हूं और मेरा काफी वक्त दिल्ली में ही बीता है। मुझे यहां के बाजार काफी अच्छे लगते हैं। वह कहती हैं,  ‘मैं दिल्ली की लड़की को क्या सिखाऊंगी, उलटा वे ही मुझे टिप्स दे देंगी। मैं टिपिकल दिल्ली की लड़की जैसी नहीं हूं। दिल्ली की लड़की बिंदास और बहुत खुले विचारों की होती हैं।’ ‘मैं मराठी और गुजराती दोनों ही भाषाएं नहीं जानती, सेट पर मुझे कुछ शब्द बोलने आ गए हैं। मेरी इस साल की शुरुआत धारावाहिक से हुई है।  मैंने एक हफ्ते में ऑडिशन से लेकर प्रोमो तक सब कर लिया है। मेरा रोल गायत्री ठक्कर का है। उसका मानना है कि वक्त के साथ बदलना चाहिए, लेकिन अपनी परंपराओं को भी नहीं भूलना चाहिए।