करतारपुर गलियारा के पवित्र कार्य को सियासत से नहीं जुड़ने दिया जाएगा : गवर्नर सरवर


अमृतसर, 19 अगस्त (सुरिंदर कोछड़): पश्चिमी पंजाब के गवर्नर चौधरी मुहम्मद सरवर ने कहा है कि करतारपुर गलियारा एक पवित्र कार्य है और पाकिस्तान सरकार इसे किसी भी प्रकार की सियासत से नहीं जुड़ने देगी। इस संबंधी ‘अजीत समाचार’ से बातचीत करते हुए उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि करतारपुर गलियारा प्रोजैक्ट सिख कौम के लिए बड़ा महत्व रखता है और इन भावनाओं का सम्मान करते हुए गलियारा के निर्माण में न तो पहले कोई बाधा आने दी गई है और न ही आगे किसी प्रकार की बाधा आने दी जाएगी और निर्माण का शेष रहता कार्य भी निर्धारित समय में पूरा कर लिया जाएगा। गवर्नर सरवर ने यह भी स्पष्ट किया कि जो लोग करतारपुर गलियारा प्रोजैक्ट व पाकिस्तान में भारी उत्साह से मनाए जाने वाले गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव में बाधाएं पैदा करने के प्रयास कर रहे हैं, वह यह समझ लें कि गुरु नानक देव जी का सभी धर्मों में एक सामान सम्मान है और इसके मद्देनज़र उनके प्रकाशोत्सव को यादगारी बनाने में पाक सरकार किसी प्रकार की कोई कमी नहीं आने देगी। उन्हाेंने कहा कि करतारपुर प्रोजैक्ट में 80 फीसदी से अधिक कार्य मुकम्मल हो चुका है और अन्य अल्पसंख्यकों के पूजा स्थलों में भी व्यापक स्तर पर सुधार के भी कार्य जारी हैं। गवर्नर सरवर ने कुछ विदेशी सिख संगठनों द्वारा श्री करतारपुर साहिब में गुरु नानक देव जी से संबंधित खेतों को निर्माण के चलते खत्म किए जाने की उड़ाई जा रही अफवाहों का खंडन करते हुए कहा कि गुरु साहिब के खेत आज भी जस के तस मौजूद हैं और इन खेतों में पाकिस्तान सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी व सिख बुद्धिजीवियों की सलाह से सुलझाई गईं फसलें ही उगाई जाएंगी।