सीआईआई ने प्रदूषण को रोकने हेतु पंजाब व हरियाणा में 100 गांवों को गोद लिया


नई दिल्ली, 20 अक्तूबर (भाषा) : भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) ने उत्तर भारत में विशेषकर सर्दियों के दौरान प्रदूषण के स्तर को कम करने के लिए पंजाब और हरियाणा में 100 गांवों तथा एक लाख एकड़ खेत को गोद लिया है। सीआईआई ने रविवार को इसकी जानकारी दी। सीआईआई ने कहा कि उसने पंजाब में लुधियाना, बरनाला और पाटियाला ज़िलों तथा हरियाणा में रोहतक, सिरसा और फतेहाबाद ज़िलों को गोद लिया है। उसका लक्ष्य इन ज़िलों में पराली जलाने की घटानाओं को समाप्त करना है। उसने कहा कि पराली जलाने की समस्या के संभव समाधानों के क्रियान्वयन के लिये एक पारिस्थितिकी तैयार की गयी है। इसके तहत विशेषज्ञों, कॉरपोरेट, राज्य सरकारों, ग्रामीण समुदायों और कृषक समूहों समेत विभिन्न संबंधित पक्षों को एक साथ लाया जाएगा।  उद्योग मंडल ने कहा कि वह 15 हज़ार से अधिक किसानों को कृषि उपकरण, तकनीकी प्रशिक्षण मुहैया करा रहा है और पंजाब तथा हरियाणा के गोद लिए गांवों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। सीआईआई ने कहा कि इस मुहिम में उसके साथ पंजाब के 3 हज़ार से अधिक विद्यार्थी, युवा और कॉरपोरेट स्वयंसेवी जुड़ रहे हैं। सीआईआई ने कहा कि इनमें से कई किसानों ने पहली बार पराली जलाने की वैकल्पिक प्रौद्योगिकी 
को अपनाया है।