खैहरा और बलदेव जैतों के केस का मामला- स्पीकर राणा ने जुलाई और अगस्त तक दिया लम्बा समय



चंडीगढ़, 28 मई (एन.एस. परवाना) : पंजाब विधानसभा के स्पीकर राणा के.पी. सिंह ने आम आदमी पार्टी से बागी होकर पंजाब एकता पार्टी बनाने वाले सुखपाल सिंह खैहरा विधायक और जैतों से विधायक स. बलदेव सिंह को दलबदलू विरोधी कानून की उल्लंघना करने के आरोप में चल रहे केस का उत्तर देने के लिए लंबी तरीख दे दी है। विधानसभा सचिवालय के प्रवक्ता ने आज यहां ‘अजीत समाचार’ को बताया कि स. खैहरा को 20 जुलाई और बलदेव सिंह जैतों को 30 अगस्त तक का समय दे दिया है कि वह स्पीकर के सामने पेश होकर स्पष्टीकरण दें कि क्यों न उनको विधायिकी के अयोग्य ठहरा दिया जाए?ज्ञात रहे कि इन दोनों ने पंजाब एकता पार्टी की टिकट पर बठिंडा और फरीदकोट हलकों से लोकसभा का चुनाव लड़ा था। परन्तु इनकी ज़मानतें ज़ब्त हो गई है। 
खैहरा ने तो कई शर्तें लाकर इस्तीफा दे रखा है परन्तु मानशाहिया ने ‘आप’ छोड़ कर कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा कर रखी है परन्तु विधायिकी से अभी इस्तीफा नहीं दिया। वह खुलेआम बठिंडा हलके से लोकसभा का चुनाव हारने वाले कांग्रेसी उम्मीदवार अमरिन्द्र सिंह राजा वड़िंग की मदद करते रहे।