गुरू रामदास जी के  प्रकाश पर्व पर श्रद्धालुओं ने लगाई आस्था की डुबकी


अमृतसर, 15 अक्तूबर (राजेश कुमार) : श्री अमृतसर साहिब के संस्थापक व चौथे गुरू श्री गुरू रामदास जी का प्रकाश पर्व आज श्रद्धापूर्वक मनाया गया। इस अवसर पर श्री हरिमंदिर साहिब में लाखों की संख्या में श्रद्धालु नतमस्तक हुए और अरदास की। उन्होंने पवित्र सरोवर में आस्था की डुबकी लगाकर अपने आपको धन्य किया। इस पवित्र अवसर पर श्री हरिमंदिर साहिब, श्री अकाल तख्त साहिब और गुरूद्वारा बाबा अटल राये साहिब में सुंदर जलौ भी सजाये गए जिनके श्रद्धालुओं ने दर्शन-ए-दीदार किए।
शिरोमणि कमेटी के  सफल प्रबंधों के बीच गुरूद्वारा श्री मंजी साहिब दीवान हाल में श्री अखंड पाठ साहिब के भोग डाले गए जिसके बाद यहां लगातार सजाये गए धार्मिक दीवान में कौम के महान रागी, ढाडी व कविशरी जत्थों ने संगत को गुरबाणी कीर्त्तन और श्री गुरू रामदास जी के जीवन इतिहास के साथ जोड़ा। गुरूद्वारा श्री मंजी साहिब हाल में हुए समारोहों दौरान अलग-अलग मुकाबलों में से अव्वल रहने वाले विद्यार्थियों को सम्मानित भी किया गया। रात्रि के समय रंग-बिरंगी बिजली की दीपमाला के साथ इस बार रवायती दीपमाला को उत्साहित करने हेतु एक लाख देसी घी से दीयों की भी दीपमाला की गई। समारोह दौरान श्री हरिमंदिर साहिब के हैड ग्रंथी ज्ञानी जगतार सिंह, ज्ञानी बलविंदर सिंह, शिरोमणि कमेटी सचिव डा. रूप सिंह, सचिव मनजीत सिंह, मैनेजर जसविंदर सिंह दीनपुर, मैंबर बीबी दविंदर कौर, पूर्व सचिव बलविंदर सिंह, प्रवक्ता कुलविंदर सिंह रमदास व अन्य मौजूद थे। 
शिरोमणि कमेटी द्वारा 52 किरती व 52 होनकार विद्यार्थी सम्मानित : श्री गुरू रामदास जी के प्रकाश पर्व मौके शिरोमणि कमेटी की ओर से 52 किरती तथा 52 होनहार विद्यार्थियों को सम्मानित किया गया। सम्मान के तौर पर किरतियों को 11-11 हज़ार रुपए तथा विद्यार्थियों को 5100-5100 रुपए प्रदान किये गये।