" जेलों में गैंगस्टरों की गतिविधियां रोकने के लिए " अकाली दल द्वारा जेलमंत्री रंधावा को बर्खास्त करने की मांग


चंडीगढ़, 4 दिसम्बर (अ.स.) : शिरोमणि अकाली दल ने आज राज्य की जेलों में चल रही गैंगस्टरों की गतिविधियां रोकने के लिए जेलमंत्री सुखजिंदर रंधावा की तत्काल बर्खास्तगी की मांग की है तथा कहा है कि जेलों में अपराधियों को मनमर्जी करने की छूट देकर राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में न जाला जाए। पूर्व मंत्री सरदार महेशइंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा कि पुलिस द्वारा संगरूर की जेल में मोबाइल फोन के इस्तेमाल संबंधी की जांच के बाद हुए खुलासे कि जेल में अपराधियों से पैसे लेकर सभी सेवाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं, ने गैंगस्टर मंत्री सांठ-गांठ की सच्चाई को सामने लाकर रख दिया है। उन्होंने कहा कि हमने गैंगस्टर जग्गू भगवानपुरिया को दी जा रही सुविधाओं के बारे जो कहा था, वह सच बाहर आ रहा है। उन्होंने कहा कि यह भी खुलासा हुआ है कि कैदियों को सिर्फ मोबाइल फोन ही नहीं बल्कि इंटरनेट की सुविधा, विशेष भोजन तथा बाकी अन्य सुख सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं। अकाली नेता ने कहा कि संगरूर जेल में लाईव वीडियो घोटाले की जांच से खुलासा हुआ है कि कैदियों को फोन तथा सुविधाएं देने के लिए बहुत अधिक धन लिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि स्पष्ट है कि यह पैसा ऊपर तक पहुंचाया जा रहा है। यही कारण है कि कुख्यात बदमासों को भी जेल से अपनी आपराधिक गतिविधियां चलाने के लिए टेलीफोन तथा वाईफाई की सुविधाएं उपयोग करने की आज्ञा दी जा रही है। उन्होंने कहा कि यह सब जेलमंत्री के संरक्षण में हो रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह सुखजिंदर सिंह रंधावा के खिलाफ कार्रवाई करते हुए उसे बर्खास्त करना चाहिए।