सेहत के लिए ज़रूरी कच्च खाना


 


आमतौर पर सभी खाद्य पदार्थों को पकाकर ही खाया जाता है लेकिन यदि उन्हें बिना पकाए कच्चा ही खाया जाए तो वे सेहत के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। खाद्य पदार्थों को पकाने से उनमें मौजूद एमीनो अम्ल, एन्जाइम्स, विटामिन्स और खनिज लवण आदि कई तत्व नष्ट हो जाते हैं जो शरीर के लिए लाभदायक होते हैं।
स्वस्थ, सुंदर और छरहरे बदन के लिए नियमित व्यायाम और तनावमुक्त रहने के साथ पोषणयुक्त खान-पान ज़रूरी होता है। रेशेदार खाद्य पदार्थ, ताजे फल-सब्जियां, मौसमी फलों का सलाद और दिन भर में 10-12 गिलास पानी पीने से शरीर निरोग, आकर्षक एवं छरहरा होगा। कच्चे खाद्य पदार्थों का सेवन स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक होता है। खाद्य पदार्थों को उनके प्राकृतिक रूप में सेवन करना शरीर के लिए काफी हितकर होता है। इससे शरीर स्वस्थ और निरोग रहता है। खाद्य पदार्थों को पकाने से कई एन्जाइम्स नष्ट हो जाते हैं। इनके अभाव में पाचनतंत्र कमजोर हो जाता है और भोजन का ठीक से पाचन नहीं हो पाता है। मानव शरीर की पाचन प्रणाली कच्चे खाद्य पदार्थों को पचाने के अनुरूप बनी है।  जो लोग कच्चे भोजन का सेवन क र रहे हैं। वे लोग शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ है। उनकी त्वचा भी कोमल, चिकनी और कांतिमय दिखती है।
कच्चे पदार्थों के सेवन से शरीर चुस्त, स्फूर्त और तरोताजा होता है। स्मरण शक्ति बढ़ती है। मोटापा भी घटता है। शरीर की जकड़न और ऐंठन दूर होती। शरीर को अधिक ऊर्जा भी मिलती है इसलिए भोजन में सलाद  लेने की सलाह दी जाती है। सलाद के सेवन से सब्ज नहीं होता। पाचन शक्ति बढ़ती है।
(स्वास्थ्य दर्पण)