रूस की यूक्रेन में जनमत संग्रह की मांग अवैध - व्हाइट हाउस    


 वशिंगटन, 21 जुलाई - व्हाइट हाउस का कहना है कि वह रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की पूर्वी यूक्रेन में जनमत संग्रह की मांग का समर्थन करने पर विचार नहीं कर रहा। अमेरिका में रूस के राजदूत एनातोली एंतोनोव ने पहले बताया था कि हेलसिंकी की शिखर वार्ता में दोनों नेताओं ने अलगाववादी प्रभाव वाले पूर्वी यूक्रेन में जनमत संग्रह करवाने की संभावना पर चर्चा की थी। राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के प्रवक्ता गैरेट मार्किस ने कहा कि रूस और यूक्रेन की सरकार के बीच डोनाबास क्षेत्र में जारी संघर्ष को समाप्त करने के लिए हुए समझौते में "जनमत संग्रह" का कोई विकल्प शामिल नहीं है। उन्होंने कहा कि तथाकथित जनमत संग्रह करवाने का कोई भी प्रयास वैध नहीं होगा। ट्रंप और पुतिन के बीच शरद ऋतु में होने वाली शिखर वार्ता के एजेंडे बताते हुए व्हाइट हाउस की ओर से यह घोषणा की गई। दोनों नेताओं के  बीच शरद ऋतु शिखर वार्ता राष्ट्रीय सुरक्षा पर केंद्रित होगी।