ऐतिहासिक वर्ष, ऐतिहासिक आयाम


भारत का 73वां स्वतंत्रता दिवस देश के अब तक के स़फर के दौरान अहम चरण है। आज हमारा देश राजनीतिक और संवैधानिक विचारों, नैतिक मूल्यों और सिद्धांतों, जिनके प्रति हम पूरी तरह संजीदा और वचनबद्ध हैं, गम्भीर मंथन कर रहे हैं। यह वर्ष इसलिए भी ऐतिहासिक है कि हम श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाशोत्सव मना रहे हैं, जिनकी विचारधारा हमें हमेशा ही राष्ट्र के विकास के लिए सद्भावना, शांति, एकजुटता और अहिंसा के रास्ते पर चलने के लिए प्रेरित करती रहेगी।
इस अहम अवसर पर मैं दुनिया भर में रहते भारतीयों को हार्दिक बधाई देता हूं और उन सभी को श्रद्धांजलि भेंट करता हूं जिन्होंने न सिर्फ आज़ादी संघर्ष के दौरान अपितु बाद के वर्षों के दौरान नैतिक मूल्यों की रक्षा के लिए अपना जीवन कुर्बान कर दिया। मैं उन बहादुर सैनिकों को भी सलाम करता हूं जो निरंतर हमारे देश की रक्षा कर रहे हैं ताकि हम अमन-शांति से रह सकें।
श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव के संदर्भ में समारोह इस वर्ष 12 नवम्बर को सम्पूर्ण होंगे। गुरु साहिब जी के जीवन से संबंधित ऐतिहासिक शहरों सुल्तानपुर लोधी, डेरा बाबा नानक और बटाला में बुनियादी ढांचे के कार्यों का काम तेज़ी से चल रहा है क्योंकि इस प्रकाशोत्सव के अवसर पर लाखों की संख्या में संगत के इन पवित्र शहरों में जुड़ने की उम्मीद है।
करतारपुर गलियारा खुलने के पल का इंतज़ार न सिर्फ सिख भाईचारे द्वारा अपितु दुनिया भर में श्री गुरु नानक देव जी के श्रद्धालुओं द्वारा बड़ी उत्सुकता से किया जा रहा है। मेरा निजी तौर पर विश्वास है कि यह गलियारा भारत और पाकिस्तान के लोगों के मध्य भाईचारक सांझ, सद्भावना और मित्रता की भावना और प्यार लाएगा, बावजूद इसके कि राजनीतिक और कूटनीतिक मुद्दों पर इस समय हमारे रिश्ते असर अंदाज़ हो रहे हैं।
स्कूल और यूनिवर्सिटी स्तर पर शिक्षा मुहैया करवाने के लिए हम गुणवत्ता और बुनियादी ढांचे में सुधार हेतु प्रभावशाली पग उठा चुके हैं। इस क्षेत्र में पारदर्शिता लाने हेतु मैं वचनबद्ध हूं और ऑनलाइन तबादला नीति इस दिशा की तरफ एक बड़ा कदम है। इस नीति को अन्य विभागों में शीघ्र लागू करने के लिए हमने योजना बनाई है। हमारी ‘पढ़ो पंजाब, पढ़ाओ पंजाब’ मुहिम को राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता मिली है और यह मुहिम हमारे सरकारी स्कूलों के लिए 2018-19 अकादमिक सैशन के दौरान 10वीं और 12वीं कक्षा के लगभग 90 प्रतिशत सफल परिणाम हासिल करने में सहायक हुई है।
पंजाब उज्जवल भविष्य की तरफ बढ़ता नज़र आ रहा है और आगामी अढ़ाई वर्ष में इस स़फर की रफ्तार को कई गुणा बढ़ाएंगे, क्योंकि हमने स्वयं को राज्य और यहां के लोगों की तरक्की के लिए पूरी तरह समर्पित किया हुआ है।  जय हिंद।