सांभर झील में 10 हजार से अधिक पक्षियों की मौत


जयपुर.15 नवंबर - राजस्थान की सांभर झील में अब तक की सबसे बड़ी पक्षी त्रासदी में पक्षियों की मौत के कारण मेगट्स कीड़े को बताया जा रहा है. इस कीड़े से फैलने वाली एवियन बोटुलिज्म  बीमारी को ही मौत का कारण माना जा रहा है. इधर, गुरुवार को झील पर मामले की जांच-पड़ाल के बाद विशेषज्ञों ने बर्ड फ्लू पक्षियों की मौत से इनकार कर दिया है. उधर, हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) के प्रसंज्ञान लेने के बाद वन विभाग, पशुपालन विभाग और स्थानीय प्रशासन ने पक्षी विशेषज्ञों के साथ मौका मुआयना किया. मामले की गंभीरता को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत  ने भी गुरुवार को बैठक बुलाई. बता दें कि इस त्रासदी में अब तक 10 हजार से अधिक पक्षियों के मौत का अनुमान है. यहां 25 प्रजातियों के पक्षी अकाल मौत का शिकार हुए हैं और इनमें माइग्रेट बर्ड्स भी शामिल हैं.