प्रकाश पर्व समारोह संगत पर अच्छा प्रभाव डालने में सफल रहे : बीबी जगीर कौर


जालन्धर, 21 नवम्बर (जसपाल सिंह): हाल ही में पवित्र नगरी सुल्तानपुर लोधी में मनाए गए पहली पातशाही श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व समारोह बेहद सफल रहे हैं तथा लगातार 13 दिन तक चले इन समारोहों में लाखों की संख्या में संगत ने गुरुद्वारा बेर साहिब नतमस्तक होकर गुरु घर की खुशियां प्राप्त कीं। इन समारोहों को मनाने के लिए बेशक राज्य सरकार व सिखों के सिरमौर संगठन शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी में आपसी तालमेल की कमी महसूस होती रही परन्तु इसके बावजूद यदि प्रकाश पर्व समारोह ऐतिहासिक हो निपटे हैं तथा संगत ने बिना किसी दुविधा व समस्या के प्रकाश पर्व समारोहों में पूरी श्रद्धा व उत्साह से शिरकत की है तो इसका पूरा श्रेय शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की पूर्व प्रधान बीबी जगीर कौर को जाता है। इन समारोहों बारे अपने प्रभाव ‘अजीत प्रकाशन समूह’ के साथ साझा करते हुए बीबी जगीर कौर ने कहा कि प्रकाश पर्व समारोह संगत पर अच्छा प्रभाव डालने में सफल रहे हैं तथा खासकर नौजवान वर्ग गुरु साहिब के फलसफे से बहुत प्रभावित हुआ है। ‘अजीत’ भवन में एक विशेष भेंटवार्ता दौरान उन्होंने कहा कि शताब्दियां मनाने का खास उद्देश्य होता है।
शिरोमणि कमेटी प्रधान का कार्यकाल 5 वर्ष किया जाए
 उन्होंने शिरोमणि कमेटी प्रधान का कार्यकाल 5 वर्ष किए जाने की मांग करते हुए कहा कि एक वर्ष का समय बहुत थोड़ा होता है तथा प्रधान द्वारा बनाए कार्यक्रमों को पूरा करने में समस्याएं आती हैं। ऐसे में यदि 5 वर्ष नहीं तो कम से कम प्रधान को 3 वर्ष का समय ज़रूर दिया जाना चाहिए।