प्रकाश पर्व में पंडाल संबंधी उठे विवाद को लौंगोवाल ने बताया अनावश्यक


अमृतसर, 22 नवंबर (राजेश कुमार) : शिरोमणि कमेटी के प्रधान गोबिंद सिंह लौंगोवाल ने श्री गुरू नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व संबंधी लगाए पंडाल के उठे विवाद को अनावश्यक बताते हुए संगतों को इससे सुचेत रहने की अपील की है। साथ ही उन्होंने इस विवाद को उठाने वाले मनदीप सिंह मन्ना विरूद्ध मानहानि का केस भी दायर करने के लिए कहा है। भाई लौंगोवाल ने कहा कि पहली पातशाही के प्रकाश पर्व मौके शिरोमणि कमेटी द्वारा सुल्तानपुर लोधी में लगाये गए पंडाल के मामले को कुछ लोगों द्वारा जानबूझ के तूल दिया जा रहा है जबकि यह पंडाल शिरोमणि कमेटी द्वारा नियमों अनुसार पारदर्शी ढंग से लगाया गया था। इसलिए बकायदा तौर पर अखबारों में विज्ञापन भी दिए गए थे। मुकम्मल शर्तें शिरोमणि कमेटी वैबसाईट पर डाली गई थी और शर्तें पूरी करने वाली फर्म को सब कमेटी की सिफारिश अनुसार ही टैंडर दिया गया था।  उन्होंने कहा कि यह टैंडर अकेला पंडाल के लिए ही नहीं था बल्कि इसमें संगत के लिए अनेकों सेवाएं भी शामिल थी। अकेला पंडाल ही केवल साढ़े 3 करोड़ के खर्च पर लगाया गया था तथा अन्य सहूलतों और सेवाओं का खर्च अलग था। उन्होंने कहा कि शिरोमणि कमेटी को बेवजह बदनाम करने की साजिश रची जा रही है। उन्होंने कहा कि गत दिनों सोशल मीडिया पर मनदीप सिंह मन्ना द्वारा पंडाल संबंधी तथ्यों से रहित की गई बयानबाजी विरूद्ध शिरोमणि सख्त कार्यवाहीं करेगी। उन्होंने कहा कि मन्ना खिलाफ मानहानि का केस दायर किया जायेगा। उन्होंने संगतों को ऐसे मनघढं़त बयानों से सुचेत रहने की अपील की है।