धोखे से विवाह कर कनाडा आए फरार दूल्हा-दुल्हनों पर कसा शिकंजा

एडमिंटन, 10 जनवरी (दर्शन सिंह जटाणा): गत कई वर्षों से भारतीय मूल के विदेशी लड़के-लड़कियां जो पंजाब जाकर भोले-भाले लड़के-लड़कियों के साथ विवाह करवा कर लाखों रुपए की ठगी के साथ उन लड़कियों के साथ शारीरिक शोषण करने और बाद में उनका हाल-चाल न पूछना या कनाडा में पहले विवाहित या दोबारा फिर विवाह करवाने के बाद पीछे परेशान लड़के-लड़कियों  के साथ ठगी मारने वाले बढ़ रहे केसों को अब सख्ती के साथ लेने पर पंजाब के एन.आर.आई कमिशन द्वारा की गई सख्ती से अब इंसाफ के लिए परेशान लड़के-लड़कियों को कुछ आशा की किरण लगती है। वर्णनीय है कि इस समस्या से जुड़े 45 हज़ार लड़के-लड़कियों के केस जो पंजाब या किसी अन्य राज्यों से संबधित हैं माननीय अदालतों व पुलिस थानों में गत काफी वर्षों से चल रहे हैं जिसका इंसाफ लेने के लिए यह लड़के-लड़कियां दर-दर की ठोकरें खा रही थीं अब कुछ यह मामले हल होने के कगार पर आए हैं। एन.आर.आई. कमिशन के चेयरमैन रकेश गर्ग के साथ बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि यह एक गम्भीर समस्या थी और प्रत्येक की जिंदगी से जुड़ी समस्या थी परन्तु अब कमिशन ने पुलिस के साथ सीधे तौर पर उन्होंने सभी परिवारों को तलब किया है और इन केसों को जल्दी हल करते हुए बहुत सारे लड़के-लड़कियों को अब वापिस आ कर पीड़ित परिवारों के साथ बातचीत करके मसले का हल कर रहे हैं जो हमारे लिए यह बड़ी बात है।