निशान साहिबान की पोशाकों का रंग बसंती या सुरमयी उपयोग करने की अपील


अमृतसर, 19 अक्तूबर (जस्स): पंजाबी लेखक डा. चरनजीत सिंह गुमटाला ने श्री अकाल तख्त साहिब के कार्यकारी जत्थेदार सिंह साहिब ज्ञानी हरप्रीत सिंह व शिरोमणि कमेटी के अध्यक्ष भाई गोबिंद सिंह लौंगोवाल को पत्र लिखकर मांग की है कि सिख रहित मर्यादा के अनुसार निशान साहिब की पौशाकें का रंग बसंती या सुरमयी होना चाहिए परंतु कुछ वर्षों से बसंती व सुरमयी रंग के स्थान पर निशान साहिब के पौशाकों का रंग भगवा किया गया है, जोकि सिख रहित मर्यादा का उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि कुछ वर्षों से बसंती व सुरमयी रंग के स्थान पर निशान साहिब के पौशाकों का रंग भगवा किया गया है, जोकि सिख  रहित मर्यादा का उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि सिरोपे भी भगवे देने शुरू कर दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि भगवा रंग सिख धर्म के अनुयाइयों का रंग नहीं है और यह आर.एस.एस. का रंग है। उन्होंने कहा कि अब जबकि सारी दुनिया श्री गुरु नानक देव जी का 550वां प्रकाशोत्सव मना रही है तो हम सभी का फज़र् बनता है कि हम पंथ प्रवानित रहित मर्यादा पर अमल किया जाए।