पाक ने 3 हज़ार वर्ष पुराने शहर की खोज की 


अमृतसर, 15 नवम्बर (सुरिंदर कोछड़) : पाकिस्तान व इटली के पुरातत्व विशेषज्ञों ने 3 हज़ार वर्ष पुराने शहर की खोज करने का दावा किया है। माना जा रहा है कि विशेषज्ञों द्वारा उत्तर-पश्चिम पाकिस्तान में की गई संयुक्त खुदाई दौरान अलैग्जैंडर (सिकंदर) की निशानियां प्राप्त हुई हैं। 5000 वर्ष पुरानी सभ्यता और इसकी कलाकित्तियों के लिए मशहूर पाक के राज्य खैबर पख्तूनखवा के स्वात ज़िले की बारिकोट तहसील में बेजेरा नामक एक शहर की खोज की गई है। यहां की गई खोज में हिन्दू मंदिरों, सिक्कों, सतूपों, मिट्टी के बर्तनों और उस समय के हथियारों के चिन्ह भी मिले हैं।विशेषज्ञों का मानना है कि अलैग्जैंडर 326 ई.पू. में अपनी सेना के साथ सवात आया और उसने ओडीग्राम क्षेत्र में हुई एक लड़ाई में विरोधियों को हराया और बेजेरा नामक एक किले का निर्माण किया। विशेषज्ञों को सिकंदर के युग से पहले शहर में लोगों के आबाद होने की निशानियां मिली थीं। सिकंदर से पहले इंडोग्रीक, बोद्धमत, हिन्दू शाही और मुसलमानों के पैरोकार इस शहर में रहते थे। भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा वर्ष 1922 में मोहनजोदड़े की खोज की गई थी पर देश के बंटवारे के बाद यह साईट पाक के सिंध प्रांत के हिस्से में चली गई। माना जाता है कि लगभग 1900 ई.पू. में इसका अंत हो गया। वैज्ञानिक मानते हैं कि मोहनजोदड़ो को सबसे बड़ा खतरा सैलानियों से है जो हर वर्ष हज़ारों की संख्या में वहां पहुंच रहे हैं।