महिलाओं से जुड़े मामलों के जल्द निपटारे के लिए व्यवस्था बनाना जरूरी:रविशंकर 



नई दिल्ली, 07 दिसंबर - केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, 'मैं सीजेआई और अन्य वरिष्ठ न्यायाधीशों से आग्रह करूंगा कि इस तरह के मामलों के निपटान की निगरानी के लिए एक तंत्र बनाया जाए और 2 महीने के अंदर जांच पूरी की जाए।’ उन्होंने कहा, 'इस देश की महिलाएं अत्यधिक पीड़ा और संकट में हैं। वह न्याय के लिए रो रही हैं।' केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जघन्य और अन्य अपराधों के लिए 704 फास्ट-ट्रैक अदालत मौजूद हैं। सरकार पॉक्सो और बलात्कार के अपराधों के लिए 1,123 समर्पित अदालतें स्थापित करने की प्रक्रिया में है।