पाक में अपहरण बताई जा रही हिन्दू लड़की का मामला गर्माया


अमृतसर, 20 जनवरी (सुरिंदर कोछड़) : पाकिस्तान के राज्य सिंध ज़िला जैकबाबाद में अपहरण हुई बताई जा रही महक कुमारी (15) पुत्री विजय कुमार द्वारा वीडियो के ज़रिए यह स्वीकार किए जाने के बावजूद कि उसने स्वयं-इच्छा से दरगाह अरमूह शरीफ में इस्लाम कबूल करने के उपरांत अली रज़ा माची (28) के साथ निकाह कर लिया है। बड़े स्तर पर राज्य के विभिन्न शहरों में प्रदर्शन किए गए। इस्लाम स्वीकार करने के उपरांत बीबी अलीज़ा बनी महक कुमारी को पुलिस अभी तक अदालत में पेश नहीं कर सकी है। उधर अलीज़ा के पिता ने बताया कि अली रज़ा का इससे पहले 2 बार निकाह हो चुका है और उसके 4 बच्चे भी है। अपहरणकर्ता उनके क्षेत्र में काम करता था और मौका देख वह 9वीं कक्षा में पढ़ रही उनकी पुत्री का अपहरण कर गुप्त स्थान पर ले गया है। उन्होंने कहा कि थाने के एस.एच.ओ. ने अभी तक उनकी बेटी के बारे कोई सुराग लगाने के लिए किसी भी संदिग्ध स्थान पर छापेमारी नहीं की है, जबकि क्षेत्र के एस.एस.पी. का कहना है कि इस मामले को सुलझाने के लिए 3-4 दिन ओर लग सकते हैं। जैकबाबाद पंचायत के प्रधान और अन्य हिन्दू संगठनों ने इस मामले को लेकर रोष प्रदर्शन करते हुए कहा कि पाक में अल्पसंख्यक भाईचारे के लोग सुरक्षित नहीं है यदि जल्दी महक कुमारी को उसके परिजनों के हवाले न किया गया तो पाकिस्तान में विशाल स्तर पर ऐसे रोष प्रदर्शन किए जाएंगे, जो पहले कभी नहीं हुए होंगे। उन्होंने साथ ही यह भी चेतावनी दी कि यदि किसी प्रकार पाकिस्तान में हिन्दू लड़कियों के धर्म परिवर्तन और गैर-धर्म में निकाह के मामले जारी रहे तो उनको मज़बूरन पाकिस्तान को छोड़ कर किसी अन्य देश में शरण लेनी होगी।
पिछले कुछ महीनों में 50 लड़कियों का धर्म परिवर्तन
पाकिस्तान हिन्दू पंचायत द्वारा जारी की गई लड़कियों के अपहरण के मामले सामने आए हैं। जिनमें श्री ननकाना साहिब के गुरुद्वारा श्री तंबू साहिब के ग्रंथी भगवान सिंह की पुत्री जगजीत कौर का नाम भी दर्ज है। जारी की गई उक्त सूची में अपहरण कर धर्म परिवर्तन  और निकाह कराए जाने वाली लड़कियों में कोमल, अनीता कोलही (टंडू अल्ला यार), लक्ष्मी, समीना उद,  विद्या व सोनिया (कराची), सोनिया भील, राधा, अनीशी कुमारी (हैदराबाद), परमीला महेश्वरी, निशा उद (टंडू मोहम्मद खान), माला मेघवार (ज़ामखान), गानी कोलही (बदीन), लक्ष्मी (तराई बदीन), गवारी (गवारी बदीन), चम्पा (बुद्धू कामबरानी), रीना व रवीना (गोटकी), सोनिया कुमारी, सस्वर्ती (मीरपुर खास), क्लशमी, कलीम कुमारी व बर्शीन कुमारी (साल्लेपट), ममता भील (शहिदाद कोट), आरती कुमारी (खैर पुर), कृष्णा (गुरु), जीजन (संजारपुर), सलमा (खिंजो), ज़रीना उद (सरदार गढ़), आशू मेघवार (थार), प्रिया कुमारी (चदको), नैना (लियाकतपुर), पायल कोहिसतानी (थाटा), रैनू कुमारी (रोहाड़ी), जगजीत कौर (श्री ननकाना साहिब), सोनिया (थानो बुल्ला खान), मोनिका (पिठारो), काशमाला (बहावलपुर), पठानी (सरहारी नवाब शाह), सिमरन (रोहड़ी), जमना (साजावाल), पूजा (माहेर), सपना (डहरकी), नेहा काशवानी, सकीना, हुमा यूनस, सबीरा, शांति, सरमी मेघवार और महक के नाम दर्ज है।