बिना कष्ट सहे कोई आनंद नहीं मिलता 


एक आकांक्षावान आईपीएस अफसर धनक के रूप में श्रुति शर्मा ने आगे एक बड़े चुनौतीपूर्ण काम का बीड़ा उठाया है। श्रुति अपने किरदार के लिए बहुत ज्यादा समर्पण भाव दिखा रही हैं । श्रुति शर्मा को इस दमदार किरदार का बिल्कुल परफेक्ट अभिनय करने के लिए शारीरिक और मानसिक, दोनों तरह से बेहद फिट बनने और अपनी सहनशीलता का निर्माण करने की जरूरत थी। अपने खेल में चोटी पर बने रहने की इच्छा रखने वाली इस अभिनेत्री ने अपना स्टैमिना बनाने के लिए निजी तौर पर वर्कवाउट करना चुना और कुछ बेहद सख्त फंक्शनल ट्रेनिंग ली। श्रुति ने अपनी आईपीएस ट्रेनिंग सीक्वेंस को असल में पूरा किया है। सभी साथी सितारे और क्रू उन्हें इस कठिन सर्किट पर वास्तव में प्रदर्शन करते हुए देखकर बेहद हैरान थे जिसके लिए अत्यधिक समर्पण और सटीकता की जरूरत थी। अपनी दिनचर्या के बारे में श्रुति का कहना था, ‘मैं जानती थी मुझे अपना स्टैमिना बनाना होगा। ट्रेनिंग बहुत कठिन थी और ढेर सारी कड़ी मेहनत, सब्र और दृढ़ता की जरूरत थी। लेकिन जैसा बोला जाता है, बिना कष्ट हुए कोई आनंद नहीं मिलता है, इसलिए मैं जानती थी कि अगर मुझे अपना बेस्ट देना है तो मुझे यह अतिरिक्त कोशिश करनी होगी। इसलिए मैंने शुरु करने और एक सही दिनचर्या के लिए तैयार होने का फैसला किया जो हकीकत में भी मुझे अनुशासित बनाए।