देशभर में सबसे अधिक कुर्बानियां पंजाब पुलिस ने दीं : दिनकर गुप्ता


जालन्धर, 21 अक्तूबर (जसपाल सिंह) : पंजाब पुलिस के प्रमुख दिनकर गुप्ता ने यहां पी.ए.पी. काम्पलैक्स में शहीद पुलिस जवानों की याद में करवाए गए प्रदेश स्तरीय ‘शहीदी पुलिस दिवस’ समारोह के अवसर पर शहीदी यादगार पर पुष्पमालाएं भेंट कर शहीदों को अपनी श्रद्धा के फूल भेंट किए। इस अवसर पर उनके साथ अन्य उच्च पुलिस अधिकारियों व ज़िला के डिप्टी कमिश्नर वरिंदर कुमार शर्मा द्वारा भी श्रद्धांजलि भेंट की गई। पुलिस प्रमुख द्वारा शहीदों की याद में पी.ए.पी. काम्पलैक्स में एक पौधा भी लगाया गया। इससे पूर्व पुलिस अधिकारियों, जवानों व शहीदों के पारिवारिक सदस्यों को सम्बोधित करते हुए पुलिस प्रमुख दिनकर गुप्ता ने कहा कि पंजाब पुलिस शहीद परिवारों की बेहतरी व खुशहाली के लिए वचनबद्ध है और जल्द ही ऐसे परिवारों की भलाई की नई योजना लाई जाएगी। उन्होंने कहा कि जिन पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा अपनी कीमती जानों की कुर्बानी दी गई है, उनके परिवारों का रखना हमारा फज़र् है। इस अवसर पर पंजाब पुलिस के कुर्बानियों भरे इतिहास का ज़िक्र करते हुए दिनकर गुप्ता ने कहा कि देशभर में सबसे अधिक कुर्बानियां पंजाब पुलिस द्वारा दी गई हैं। इससे पूर्व कमांडैंट राजपाल सिंह संधू ने शहीद हुए पुलिस अधिकारियों व जवानों के नाम पढ़े, जबकि डा. सुरिंदर कुमार कालिया डीआईजी पीएपी ने समारोह संबंधी जानकारी दी।  इस अवसर पर डीजीपी प्रबोध कुमार, पुलिस अधिकारी कुलदीप सिंह, संजीव कालड़ा, गौरव यादव, मैडम गुरप्रीत दियो, वरिंदर कुमार शर्मा व अर्पित शुक्ला (सभी ए.डी.जी.पी.), आई.जी. राम सिंह, अमनदीप सिंह राय, अनन्या गौतम, एम.एफ. फारूकी, नौनिहाल सिंह, अमर सिंह चाहल, जसकरन सिंह (सभी आई.जी.पी.) व पूर्व पुलिस प्रमुख महल सिंह भुल्लर व राजन गुप्ता के अतिरिक्त  अन्य भी सेवानिवृत्त अधिकारी व जवान मौजूद थे। श्रद्धांजलि समारोह के पश्चात् पत्रकारों से बातचीत करते हुए दिनकर गुप्ता ने खुलासा किया कि लोगों में बढ़ती असहनशीलता के कारण पुलिस पर हमले हो रहे हैं परंतु ऐसा करने वाले लोगों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। वह गत दिवस लोगों द्वारा पुलिस को घेरने व मारपीट करने की लगातार हो रही घटनाओं बारे पूछे एक सवाल का जवाब दे रहे थे।