करतारपुर साहिब में श्रद्धालुओं हेतु शिरोमणि कमेटी भेजेगी केसरी रंग के 5 हज़ार पटके


अमृतसर, 5 दिसम्बर (जसवंत सिंह जस्स): भारत-पाक सरकारों द्वारा गत 9 नवम्बर को श्री गुरु नानक देव जी की चरण स्पर्श प्राप्त गुरुद्वारा श्री दरबार साहिब करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए आरंभ किए विशेष गलियारे द्वारा रोज़ाना करतारपुर साहिब (पाकिस्तान) दर्शन करने के लिए जाने-आने वाले श्रद्धालुओं के सिर ढ़कने के लिए शिरोमणि कमेटी द्वारा केसरी रंग के 5 हज़ार पटके भेजने के साथ-साथ लंगर के लिए रसदें, सेवादार व शबद कीर्तन के लिए हज़ूरी रागी जत्थे भेजने का फैसला किया गया है।  इस संबंधी बातचीत करते हुए शिरोमणि कमेटी के मुख्य सचिव डा. रूप सिंह ने बताया कि श्री करतारपुर साहिब में दर्शन करने के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए केसरी रंग के पटके, जिनके ऊपर गु. श्री दरबार साहिब करतारपुर साहिब, मध्य खंडा व नीचे शिरोमणि गु. प्र. कमेटी लिखा होगा। उन्होंने बताया कि शिरोमणि कमेटी द्वारा श्री करतारपुर साहिब में रोज़ाना शबद कीर्तन करने के लिए श्री हरिमंदिर साहिब से हज़ूरी रागी जत्थे भेजने व गुरु का लंगर व कड़ाह प्रसाद की गुरु मर्यादा अनुसार देग तैयार करने के लिए अपने रोज़ाना सेवादार भेजने के लिए प्रवानगी हित भारत सरकार को एक पत्र भी भेजा जा रहा है।
मुसलमान श्रद्धालुओं के दिलों को मोह रहा है खंडे वाला केसरी पटका
प्राप्त सूचना अनुसार श्री करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए अब पाकिस्तान से गुरु नानक देव जी के मुसलमान श्रद्धालु भी परिवारों सहित बड़ी संख्या में पहुंच रहे हैं। उनको सिर पर बांधने वाला खालमाई खंडे के निशान वाला केसरी पटका बहुत पसंद आ रहा है व कई तो उसको याद निशानी द्वारा अपने साथ ही ले जा रहे हैं।