पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम को सीबीआई ने किया गिरफ्तार


नई दिल्ली, 21 अगस्त : पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के बीच मंगलवार से चल रही लुकाछिपी आज रात समाप्त हो गयी और जांच एजेंसी की टीम करीब दो घंटे की जद्दोजहद के बाद उन्हें आईएनएक्स मीडिया मामले में हिरासत में लेकर अपने साथ मुख्यालय ले गई। सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की गिरफ्तारी से मंगलवार से बच रहे चिदम्बरम आज रात अचानक कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे और संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित किया। इसके बाद वह सीधे अपने आवास पर गए, जिसके पश्चात सीबीआई अधिकारियों की एक टीम वहां पहुंच गई। आवास के गेट बंद होने के कारण सीबीआई के अधिकारी दीवार फांदकर अंदर गए। पुलिस की एक टीम पिछले दरवाजे से घर के अंदर गयी। बाद में आवास का गेट खोल दिया गया। करीब दो घंटे की जद्दोजहद के बाद सीबीआई टीम ने उन्हें हिरासत में ले लिया और अपने साथ जांच एजेंसी के मुख्यालय ले गयी। इस दौरान उनके आवास पर कांग्रेस के नेता एवं वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी भी मौजूद थे। सीबीआई मुख्यालय लाए जाने के तुरंत बाद चिदम्बरम से पूछताछ शुरू कर दी गयी, जिसे रिकॉर्ड भी किया जा रहा है। सीबीआई टीम के चिदम्बरम के आवास पर पहुंचते ही कांग्रेस के कुछ कार्यकर्ता बाहर जमा हो गये थे और उनके समर्थन में नारेबाजी कर रहे थे। बाद में भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता भी वहां पहुंच गये और उनके खिलाफ नारेबाजी करते हुए उनकी जल्द गिरफ्तारी की मांग की। इसी बीच स्थिति को भांपते हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की एक टुकड़ी वहां तैनात कर दी गई। पूर्व वित्त मंत्री को सीबीआई मुख्यालय लाये जाने से पहले जांच एजेंसी के निदेशक ऋषि कुमार शुक्ला तथा कुछ अन्य वरिष्ठ अधिकारी मुख्यालय पहुंच गये थे। दिल्ली उच्च न्यायालय ने कल उनकी अग्रिम ज़मानत याचिका खारिज कर दी थी, जिसके बाद सीबीआई और ईडी की टीमें उनके आवास पर शाम को पहुंची थीं, लेकिन वह वहां नहीं मिले थे और उनका कुछ अता-पता नहीं था। उनका मोबाइल बंद था। बाद में ईडी ने उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया। इसके बाद आज रात आठ बजे के करीब उन्होंने अचानक कांग्रेस मुख्यालय पहुंचकर संवाददाता सम्मेलन को सम्बोधित किया। इससे पहले आज दिन में उनके वकीलों ने उच्चतम न्यायालय में मामले का विशेष उल्लेख करने का प्रयास किया, लेकिन उन्हें विफलता हाथ लगी थी। अब उनकी याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई हो सकती है।