आरएफएल कोष घोटाला- मलविंदर व शिविंदर के खिलाफ पेशी वारंट जारी


नई दिल्ली, 22 अक्तूबर (भाषा) : दिल्ली की एक अदालत ने रेलीगेयर फिनवेस्ट लिमिटेड (आरएफएल) के धन का कथित तौर पर गबन करने के मामले में गिरफ्तार किए गए फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रमोटरों मलविंदर सिंह और उनके भाई शिविंदर सिंह के खिलाफ मंगलवार को बुधवार को समझौता वार्ता के लिहाज से पेशी वारंट जारी किया। मुख्य मेट्रोपॉलिटन मैजिस्ट्रेट दीपक सहरावत को शिविंदर सिंह के वकील ने बताया कि दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) समझौते में पक्ष नहीं है। वकील ने कहा कि समझौते को, धन दिए जाने के तौर पर नहीं देखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि उनके पास अलग-अलग आरोपियों के लिए अलग-अलग धारणाएं हो सकती हैं। सिंह बंधुओं ने शुक्रवार को अदालत से अंतरिम ज़मानत का अनुरोध करते हुए कहा था कि वे शिकायतकर्ता के साथ मामले को निपटाना चाहते हैं। शिकायतकर्ता आरएफएल के मनप्रीत सिंह सूरी ने कहा कि वह लिखित में समझौता प्रस्ताव चाहते है।