बेरोजगार ईटीटी अध्यापकों ने भूख हड़ताल को 'मरण व्रत' में किया तबदील


संगरूर, 11 सितंबर - (धीरज पशोरिया) - 13 दिन शिक्षा भवन मोहाली के समक्ष और 7 दिन शिक्षा मंत्री के हलके संगरूर में लगातार भूख हड़ताल करने के बाद बेरोजगार टैट पास ईटीटी अध्यापकों ने अपनी मांगों के लिए जारी संघर्ष को और प्रचंड रूप देने के लिए भूख हड़ताल को 'मरण व्रत' में तबदील कर दिया है। संगरूर में सुनाम रोड पर स्थित पानी की टंकी के पास स्थापित किये संघर्ष कैंप में रोष भरे नारों की गूंज में मानसा जिले के साथ संबंधित  दो अध्यापक - हरजीत सिंह और जगविन्दर सिंह 'मरण व्रत' पर बैठ गए हैं। अध्यापक यूनियन के राज्य प्रधान दीपक कम्बोज ने कहा कि मांगों की पूर्ति तक संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने पंजाब सरकार को चेतावनी देते कहा कि वह अध्यापकों के हौसले की परख लेना बंद करे। वह आने वाले समय में भूख हड़ताल या मरण व्रत तक ही सीमित नहीं रहेंगे, बल्कि सख्त एक्शन करके संघर्ष की मशाल को और प्रचंड करेंगे।