कम्प्यूटर की 10,000 साल की गणना 200 सैकेंड में की 


पेरिस, 23 अक्तूबर (एजेंसी) : वैज्ञानिकों ने बुधवार को दावा किया कि उन्होंने संगणना की उस काल्पनिक अवस्था को प्राप्त कर लिया है जिसने विश्व के अब तक के सबसे तेज सुपर कंप्यूटर को भी पीछे छोड़ दिया है। इसे ‘क्वांटम सुपरमेसी’ कहते हैं। गूगल साइकामोर मशीन पर काम कर रही विशेषज्ञों की टीम ने बताया कि उनकी क्वांटम प्रणाली ने मात्र 200 सेकेंड में उतनी गणना कर ली जिसे करने में पारंपरिक कंप्यूटर को 10,000 साल लगते। हालांकि, गूगल के प्रतिद्वंद्वी आईबीएम के वैज्ञानिकों ने इस दावे पर सवाल उठाए हैं। अगर वैज्ञानिकों के इस दावे की पुष्टि हो जाती है तो गूगल का उपकरण दुनिया का सबसे शक्तिशाली सुपर कंप्यूटर बनाने में सक्षम होगा जो प्रति सेकेंड 20,000 खरब गणना कर सकेगा। वैज्ञानिकों के मुताबिक नियमित कंप्यूटर यहां तक कि सबसे तीव्र गति से काम करने वाला कंप्यूटर भी दो छोटे डेटा के खंड के आधार पर काम करता है जिसे बिट््स कहते हैं और यह या तो एक या शून्य हो सकता है। हालांकि, क्वांटम कंप्यूटर में डेटा के खंड 1 एवं शून्य एक साथ हो सकते हैं जिससे इसकी क्षमता बढ़ जाती है और बड़ी संख्या में आंकड़ों की गणना कर सकता है।