देशी घी व दूध पाऊडर में मंदे के आसार


नई दिल्ली, 20 अक्तूबर (एजेंसी) गत सप्ताह देशी घी व दूध पाउडर के भाव दिल्ली सहित आसपास की मंडियाें में पूर्वस्तर पर टिके रहे, लेकिन स्टॉक के माल मंडियों में कम्पनियों की अपेक्षा घटाकर बिकने से आगे बाजार 10 रुपए किलो उक्त दोनों उत्पादों में दिवाली से पूर्व मंदा लग रहा है। हम मानते हैं कि गत वर्ष समान अवधि की तुलना में लिक्विड दूध प्लांटों में कम आ रहा है, लेकिन ऊंचे भाव में कोई भी कारोबारी माल खरीदना नहीं चाह रहा है तथा इस साल की पिछैती बरसात को देखकर प्लांट भी एक महीने देर तक चलने की संभावना है। इसे देखते हुए अभी बाजार तेज नहीं लगता है। आलोच्य सप्ताह यूपी, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, एमपी आदि राज्यों के प्लांटों में कच्चे दूध की आपूर्ति कुछ बढ़कर 80 लाख लीटर दैनिक हो गयी जिससे प्लांटों में देशी घी का उत्पादन 480-485 रुपए मीट्रिक टन एवं दूध पाउडर का उत्पादन 640-645 मीट्रिक टन दैनिक होने लगा। इन सबके बावजूद प्लांटों में पुराना स्टॉक पूरी तरह समाप्त हो जाने तथा इस बार फैडरेशन अपना माल पहले ही बेच चुकी हैं, जिसके चलते बिकवाली घटाकर नहीं होने की स्थिति में बाजार पूरे सप्ताह टिका हुआ था। 
 दिवाली अगले रविवार को है, उससे पहले निर्माता कम्पनियां बाजार रोककर रखने की कोशिश करेंगी क्योंकि मुहूर्त पर एक ही बार थोड़ा घटाकर बेचने के मूड में हैं, लेकिन देशी घी अभी छठ पूजा की खपत को देखते हुए यहीं टिके रहने की संभावना है तथा इसमें दिवाली के बाद या इसके आसपास ही 300 रुपए टीन का मंदा आ सकता है।